Breaking News
  • संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सरकार ने आज बुलाई सर्वदलीय बैठक
  • हरियाणा: चौटाला परिवार में टूट, ओमप्रकाश चौटाला के पोते ने बनाई 'जननायक जनता पार्टी'
  • एडिलेड टेस्ट में भारत की ऐतिहासिक जीत, ऑस्ट्रेलिया को 31 रनों से हराया

कहीं शाम 3.30 बजे तो कहीं शाम 4.30 बजे, दुनिया में सबसे पहले यहां पहुंचा नया साल 2018...

नई दिल्ली: भारत समेत पूरी दुनिया ने नए साल 2018 का शानदार स्वाग किया। इसके साथ ही भारत की राजधानी दिल्ली समेत दुनिया के अन्य देशों के लोग देर रात तक जश्न में डूबे रहे। बता दें कि भारत में रविवार रात 11.59 मिनट के बाद से जश्न शुरू हुआ, जबकि दुनिया के कई ऐसे भी देश हैं, जहां भारत के मुकाबले कई घंटे पहेल ही लोग नए साल के जश्न में डूब गए।

आपको बता दें कि दुनियाभर में सबसे पहले नए साल का जश्न समोआ में मनाया गया। यहां भारतीय समयानुसार रविवार शाम 3.30 बजे नए साल ने दस्तक दी, जिसके बाद शाम 4.30 बजे न्यूज़ीलैंड में नए साल का जश्न शुरू हुआ। यहां राजधानी ऑकलैंड में जबरदस्त आतिशबाजी की गई।

2018: नए साल पर राष्ट्रपति और PM मोदी का संदेश के साथ शुभकामनाएं!

इसके बाद ऑस्ट्रेलिया में नए साल का आगाज हुआ, यहां रंग-बिरंगी रोशनी और ‘हैप्पी न्यू ईयर’ की गूंज के साथ न्यूज़ीलैंड के ऑकलैंड से सिडनी के मशहूर हॉर्बर ब्रिज तक नए साल का जश्न मनाया गया। न्यूजीलैंड की राजधानी ऑकलैंड में 3,000 रॉकेट से आतिशबाजी कर नए साल का वेलकम किया गया।

नए साल पर मातम- फिदायीन हमले में 5 जवान शहीद, 3 आतंकी भी ढेर

इसके अलावा यहां के बाकी शहरों में भी न्यू ईयर पर शानदार तरीके का सेलिब्रेशन दिखा। दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में भी नए साल पर खास धूमधाम देखन को मिली, यहां आतिशबाजी के साथ लोगों ने साल 2018 का स्वागत किया।

बेहद खास होगा 2018 का 26 जनवरी- युगों तक किया जाएगा याद: मोदी

तो वहीं ऑस्ट्रेलिया में सिडनी हार्बर पर जबरदस्त आतिशबाजी की गई, जिसे देखने दुनियाभर से 16 लाख टूरिस्ट पहुंचे। यहां फेस्टिव सीजन को देखते हुए पुलिस ने शहर में सुरक्षा की सख़्त व्यवस्था की थी, ताकि किसी भी हादसे या हमले से निपटा जा सके।

loading...