Breaking News
  • दिल्ली के उस्मानपुर में प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर, बदमाशों ने चलाईं अंधाधुंध गोलियां
  • जापान चुनाव: शिंजो आबे की पार्टी ने आम चुनावों में जीत हासिल कर की वापसी
  • हिमाचल: 9 नवंबर को विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करने का आज अंतिम दिन
  • उत्तराखंड बना देश का चौथा खुले में शौच से मुक्त राज्य

तो क्या नॉर्थ कोरिया करेगा भारत पर हमला?

हैम्बर्ग: शनिवार को पीएम नरेन्द्र मोदी ने G-20 शिखर सम्मेलन के दौरान दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से द्वपक्षीय मुलाकात की। यह एक शिष्टाचार वार्ता बतायी जा रही है। वहीँ इस मुलाक़ात के बाद नार्थ कोरिया की टेंशन बढने लगी है।  

G-20 शिखर सम्मेलन से इतर भारतीय पीएम नरेन्द्र मोदी ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन से मुलाकात की। इस मुलाकात को लेकर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए कहा कि हैम्बर्ग में दूसरे दिन द्विपक्षीय संबंधों की शुरुआत रही। नरेंद्र मोदी ने जी20 सम्मेलन से इतर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन से मुलाकात हुयी। इस साल मई में मून के राष्ट्रपति पद संभालने के बाद यह दोनों नेताओं की पहली बैठक रही। वहीँ पीएम नरेन्द्र मोदी की दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से मुलाक़ात के बाद नार्थ कोरिया की टेंशन बढने लगी है।

जानिए राजकुमार का रहस्य- पाकिस्तान में जन्म और नाम कुलभूषण पंडित​

बतादें कि साल 2015 में सियोल दौरे के दौरान दोनों देशों के संबंध विशेष रणनीतिक साझेदारी के रूप में परिणत हुए हैं। वहीँ अब एकबार फिर से पीएम नरेन्द्र मोदी और नये राष्ट्रपति मून-जे-इन की मुलाकात से दोनों देशों के आपसी रिश्ते बढने की उम्मीद है। इअसे में नार्थ कोरिया जिसने की सभी देशों से दुश्मनी मोल ले रखी है उसकी टेंशन बढ़ सकती है क्योंकि नार्थ कोरिया का भारत के साथ भी रिश्ते अच्छे ही रहे हैं।

फिर चर्चा में आया सैफ-करीना का तैमूर !

ऐसे में दक्षिण कोरिया के साथ बढ़ते रिश्तों से नार्थ कोरिया को परेशानी होने लगेगी। साथ ही नॉर्थ कोरिया को इस रिश्ते को पचा पाना मुश्किल है, साथ ही ऐसे में पूरी सम्भावना है नार्थ कोरिया भारत को लेकर बभी विवादित बोल बोल सकता है क्योंकि नॉर्थ कोरिया हर उस देश से दुश्मनी ले रहा है जो दक्षिण कोरिया के साथ संबंध बना रहा हो।

loading...