Breaking News
  • आज होगा योगी सरकार के कैबिनेट का विस्तार, नए चेहरों को मिल सकती है जगह
  • G7 शिखर सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने की पीएम मोदी से कश्मीर मुद्दे पर वार्ता की पेशकश
  • MP के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन, राज्य में तीन दिवसीय शोक की घोषणा की
  • INX मीडिया मामले में चिदंबरम पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार, कुछ देर में SC में सुनवाई

G20 सम्मेलन में गूंजा पीएम मोदी के ‘JAI’ का नारा, अमेरिका ने कहा,'पहले हमारे संबंध नहीं थे...

नई दिल्ली : पीएम मोदी ने एक बार फिर यह साबित किया दिया कि उनके जैसा कूटनीतिक कोई नहीं हैं। एक तरफ जहां विभिन्न देश G20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने थे वहीं पीएम मोदी ने JAI का नारा देकर सबको चौंका दिया। पीएम मोदी ने यहां जय के मतलब सफलता से बताया। लेकिन यहां जय का मतलब J – जापान, A – अमेरिका और I – इंडिया से है। आपको बता दें कि G20 में ऐसा पहली बार हुआ हैं, जब अमेरिका, जापान और भारत की त्रिपक्षीय मुलाकात हुई हो। बता दें कि यह सम्मेलन अर्जेंटीना मे हो रही है।

किसानों के मंच से राहुल का पीएम मोदी पर हमला, कहा अगर केंद्र नहीं दे रहें आपका हक तो बदल ...

प्रधानमंत्री मोदी ने इस त्रिपक्षीय बैठक को लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति समर्पित तो बताया ही, साथ ही कहा कि अगर तीनों देश मिलकर आगे बढ़ें तो जय सुनिश्चित है। गौरतलब हैं कि ये तीनों देश ऐसे समय में साथ आए है जब तीनों देशों से होड़ लेने वाला चीन, दक्षिणी चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में विवाद खड़ा कर रहा हैं।  आपको बता दे कि दोनों ही क्षेत्र खनिज, तेल और दूसके प्राकृतिक संसाधनों से भरपूर हैं। चीन के आक्रामक रवैये को लेकर एशिया की दोनों बड़ी ताकतें जापान और भारत फिक्रमंद हैं। ऐसे में अमेरिका का साथ आना चीन के लिए काफी चुनौतीपूर्ण साबित हो सकता है। इस सम्मेलन के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप ने कहा कि ये तीनों देशों के बीच सबसे मजबूत संबंधों का दौर है। ट्रंप ने कहा कि भारत और जापान से संबंध किसी भी दौर में इतने मजबूत नहीं रहे। साथ ही उन्होंने स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप की बात भी सामने रखी।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री कुरैशी का बड़ा बयान, कहा इमरान की गुगली में फंसा भारत

वहीं अपने खासमखास देश मित्र रूस राष्ट्रपति पुतिन की पहल पर पीएम मोदी ने पुतिन और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी त्रिपक्षीय मुलाकात की। प्रधानमंत्री इस अहम मुलाकात में अपने दोनों समकक्ष नेताओं को ये याद दिलाना नहीं भूले कि दुनिया की एक तिहाई आबादी वाले इन तीनों देशों को बहुत से मुद्दों पर अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी।

राम मंदिर निर्माण को लेकर संघ ने अपनाया आक्रामक रूख, देशभर में...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां जी-20 शिखर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में अर्थव्यवस्था के आधुनिकीकरण और समावेशी विकास को बढावा देने के लिए उनकी सरकार द्वारा लागू की गई प्रधानमंत्री जनधन योजना, मुद्रा और 'स्टार्ट अप इंडिया' जैसी प्रमुख योजनाओं का जिक्र किया। जी-20 विश्व की 20 प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं का समूह है। बता दें कि अर्जेंटीना के राष्ट्रपति मोरिसियो माकरी ने दो दिवसीय G20 सम्मेलन का आयोजन किया है, जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे सहित कई वैश्विक नेता शामिल रहें।

राम मंदिर पर आतंकी मसूद की धमकी, अगर बना मंदिर तो दिखेगा चारों तरफ तबाही का मंजर

by : - Amit kumar ranjan

loading...