Breaking News
  • देश के कई राज्यों में बाढ़ का कहर, सेना और एनडीआरएफ की टीमें बचावा कार्य में जुटी हैं
  • बिहार: रात भर चला ड्रामा, तेजस्वी बोले- ‘हमें मिले सरकार बनाने का मौका, ये तानाशाही है’
  • बिहार: महागठबंध से अलग हुए नीतीश- BJP के साथ बनाई नई सरकार, शपथ ग्रहण आज
  • रामेश्वरम में डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम मेमोरियल का उद्घाटन- पीएम मोदी की मौजूदगी में

यहूदी राष्ट्र के राष्ट्रपति से मिलते ही पीएम मोदी ने दिया (I for I) का फॉर्मूला


नई दिल्ली: यहूदी राष्ट्र इजरायल के ऐतिहासिक दौरे पर निकले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे का आज दूसरा दिन है। अपनी यात्रा के दूसरे दिन पीएम मोदी ने इजरायल के राष्ट्रपति रूवन रिवलिन से मुलाकात की। इसके बाद अब दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी।

राष्ट्रपति रूवन रिवलिन से मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने एक नया फॉर्मूला बताते हुए कहा कि (I- India फॉर I- Israel) यानी मोदी ने कहा कि इजरायल के लिए इंडिया और इंडिया के लिए इजरायल। तो वहीं पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान इजरायल के राष्ट्रपति रिवलिन ने कहा कि, मैं अपनी भारत यात्रा को कभी नहीं भूल सकता।

500 रुपये में 4G फोन के साथ JIO का नया धमाका !

आपको बता दें राष्ट्रपति रिवलिन से मुकात के बाद पीएम मोदी आज यहां के विपक्ष के नेता आईजैक हरजोग से भी मुलाकात करेंगे, और फिर मोदी 26/11 मुंबई आतंकी हमले में जीवित बच्चे होल्त्जबर्ग मोशे से भी मुलाकात करेंगे। इससे पहले मंगलवार को पीएम मोदी के इजरायल पहुंचने पर राजधानी तेल अवीव एयरपोर्ट पर इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने जोरदार स्वागत किया, और फिर बेंजामिन नेतन्याहू मोदी को फूलों के फार्म में भी ले गए।

मोदी और बेंजामिन जब फूलों के फार्म को देखने गए तब एक फूल का नाम प्रधानमंत्री मोदी के नाम पर रखने का एलान किया गया।इस ऐलान के बाद अब इजरायली गुलदाउदी फूल को पीएम ‘मोदी’  के नाम पर नाम रखा गया है, अब इस फूल को मोदी कहा जाएगा। इसकी पुष्टि करते हुए इजराइल के सरकारी ट्वीटर हेंडल के हवाले से कहा गया कि  ‘तेजी से बढ़ते नए फूल इजराइली गुलदाउदी फूल का नाम भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सम्मान में उनके नाम पर रखा गया है और अब इसे ‘मोदी’ कहा जाएगा,जो कि वास्तव में एक बढ़ती साझेदारी है’।

पत्नी-बेटी और पैसों के विवाद में उलझ गया यह एक्टर- ‘अवैध’ पत्नी ने किया बुरा हाल

ऐसे होते हैं कम्युनिस्ट और इतना खतरनाक है उनकी विचारधारा !

loading...