Breaking News
  • नये ट्रैफिक नियमों में बढ़े हुए जुर्माने के खिलाफ हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स
  • यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने किया है हड़ताल का आहवाहन
  • महाराष्ट्र दौरे पर पीएम मोदी, नासिक से करेंगे चुनाव प्रचार अभियान का आगाज
  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से जीता भारत

UNHRC में 115 पन्नों का डोजियर जमा करेगा पाक, भारत होगा सामने

नोएडा : अपने गलत मंसूबों के साथ UNHRC में 115 पन्नों का डोजियर जमा करेगा पाक, जिसमें वह एकबार फिर कश्मीर के मुद्दे को उठाएगा। और अपने आपको पाक साफ साबित करेगा। बता दें कि सोमवार को ही पाक के घिनौने करतूत का एक चेहरा सामने आया था, जिसमें उसके सैनिक PoK में रहनेवाले नागरिकों के साथ गलत व्यवहार कर रहे थे। साथ ही जबरन उन्हें पाक बोर्डर की तरफ धकेल रहे थे, जिस दौरान उन पर गोलियां भी चलाई गई।

पाक के इस करतूत से पाक अधिकृत कश्मीर में ही पाकिस्तान के विरूद्ध गलत नारें लगाएं गए। लेकिन वह अपने आपको PoK पर पाक साबित कर, भारत को कश्मीर के मुद्दे पर घेरने की कोशिश करेगा। हालांकि विश्व स्तर के अधिकतर देशों ने इस मसले को लेकर भारत का अंदरूनी मामला बताया है। मगर एक बार फिर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस मसले पर मध्यस्थता की बात की है। जबकि भारत इसे सरासर खारिज करता रहा है।

पाकिस्तानी राजनायिक सूत्रों के अनुसार, कश्मीर के मामले में दुनिया का सपोर्ट न मिलने से खफा पाकिस्तान डोजियर के जरिए एक बार फिर यूएन में यह मसला उठाएगा। जिसकी पैरवी पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी करेंगे। बता दें कि यह अधिवेशन UNHRC स का 42वां संशोधन है, जो सितंबर तक चलेगा। पाक इस अधिवेशन को भारत के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर मसले को उठाने के लिए एक मौके के रूप में देख रहा है। जिसमें वह भारत के खिलाफ समर्थन प्राप्त करने के लिए ‘कश्मीर रिजोल्यूशन’ भी पेश करने की तैयारी में हैं।

बता दें कि पाकिस्तान यह कोशिश करता रहा है कि UNHRC में कश्मीर को लेकर एक विशेष सत्र आयोजित किया जाए। इसके लिए वह तमाम कूटनीतिक प्रयास भी कर चुका है, अगर वह UNHRC के कुल 47 सदस्यों में से 16 का समर्थन जुटा ले तो उसे एक तिहाई सदस्यों का समर्थन प्राप्त हो जाएगा।

गौरतलब है कि UNHRC के 42वें अधिवेशन में मुस्लिम देशों के संगठन 'ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन' (OIC) के सदस्य देशों की मुख्य भूमिका होगी। बता दें कि OIC के 15 सदस्य देश UNHRC के भी सदस्य हैं, जिन्होंने हाल ही में जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकारों को लेकर चिंता जताई थी।

loading...