Breaking News
  • नये ट्रैफिक नियमों में बढ़े हुए जुर्माने के खिलाफ हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स
  • यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने किया है हड़ताल का आहवाहन
  • महाराष्ट्र दौरे पर पीएम मोदी, नासिक से करेंगे चुनाव प्रचार अभियान का आगाज
  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से जीता भारत

बेलगाम घुम रहा है पाकिस्तान का प्रधान, पीट रहा...

नोएडा : पंगु हो गया पाकिस्तान....जम्मू-कश्मीर से धारा 370 का इंतकाल हुए महीना बीत गया, कश्मीर में सब कुछ समान्य हो चला है। फोन की घंटियां बजने लगी। बच्चे चहचहाते हुए स्कूल की दौड़ लगा रहे हैं। वादियों से रूठ चुकी रौनक वापस आ रही है। लेकिन ये सब देखकर पड़ोसी जल रहा है। जल-जल के पक गया और पक कर पीला पड़ गया, लेकिन हेकड़ी है की जाती नहीं। बेशर्मी की हद देखिए कि पाकिस्तान गुलामी की जंजीर में जकड़ता जा रहा है, और उसका प्रधान एक ऐसे ख्वाब में खोया है, असल में वो उसके लायक भी नहीं है।

असल में ये इमरान का नहीं बल्कि इन जैसे जो भी आए-गए सब ने कश्मीर की बंशी बजाई, और सबने अपने-अपने तरीके से बजाई। कइयों ने जंग की धमकी दी और कइयों की अकल ठिकाने भी आई, लेकिन अब इमरान खान जंग को उत्तावले हुए जा रहे हैं, उन्हें शायद अपना इतिहास याद नहीं।

लेकिन खिलाड़ी से नेता और नेता से प्रधान बने इमरान खान शायद अंजाम भूल गए जो एक और जंग की हिमाकत कर रहे हैं। शांति प्रिय देश हिंदुस्तान को एटम बम का धौंस दिखा रहे हैं। भारत को अपनी नीतियों पर पुनर्विचार का अवसर दे रहे हैं। खैर ये तो हुई पुरानी बात अब देखिए कि जिस पाकिस्तान का प्रधान भारत को जंग की धमकी दे रहा है, कश्मीर की आजादी पर सांस सन्न होने तक लड़ने की बात कर रहा है, उसका अपना वतन गुलामी की दहलीज पर खड़ा है।

दरअसल चीन के कर्ज में डूबे पाकिस्तान के वजीर ने देश का कबाड़ा कर दिया है। और अब अपने पास कुछ नहीं बचा तो भारत का जन्नत उजाड़ने पर तुला है। जो इमरान जम्मू-कश्मीर में आजादी की आग लगा कर उनकी शांति छिनना चाहता है। उसके आवाम के साथ अपने ही देश में ऐसा हाल है।

पाकिस्तान में ही पाकिस्तानियों का जीना मुहाल है, कहीं कोई चीनी महिला दुकान में घुसकर स्थानीय दुकानदार की धुनाई कर देती है, तो कभी कोई चीनी इंजिनियर सरेआम धक्का-मुक्की कर जाता है। और कोई कुछ नहीं कहता, ऐसा हम नहीं बल्कि पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स कहती है।

दरअसल, पाकिस्तान पर चीन का कर्ज समय के साथ बढ़ता ही जा रहा है। इमरान खान की आर्थिक नीति डूब चुकी है। भीख का कटोरा कई देशों में पहुंचा, विश्व बैंक तक पहुंचा, लेकिन जो पहले देते थे, भारत में मोदी के आने के बाद से वो भी बंद हो गया। हालात ये हुए कि पाकिस्तान में भूखमरी की नौबत आन पड़ी है।

इधर कंगाली से मरते पाकिस्तान में डॉलर लूटाकर चीन ने उसके संचार से लेकर सेना तक में अपना हिस्सा बना लिया। देखिए कि पाकिस्तानी जवानों के हाथों में थमा हथियार भी चाइनिज है, जिसके सहारे भारत से जंग की जुर्रत कर रहा है। लेकिन शायद इमरान खान चाईना माल की सच्चाई नहीं जानते या अपने आवाम को बताना नहीं चाहते उनकी सीमा की हिफाजत करने वाला चाइना माल के साथ सरहद पर तैनात है।

loading...