Breaking News
  • भागलपुर: सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी मामले की CBI जांच, सीएम ने दिया निर्देश
  • आयकर विभाग ने लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति को पूछताछ के लिए बुलाया
  • उत्तर प्रदेश: 7,500 किसानों को सौंपा गया कर्ज माफी प्रमाण पत्र
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 की मौत, 2 संदिग्ध गिरफ्तार
  • तमिलनाडु: पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता की मौत की जांच के आदेश
  • जम्मू-कश्मीर: आतंकी फंडिंग के मामले में व्यापारी ज़हूर वताली गिरफ्तार

पाकिस्तान ने नए PM ने भी खाई भारत की ‘बर्बादी’ की कसम

इस्लामाबाद: पनामा पेपर लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद प्रधानमंत्री का पद गंवा चुके नावाज शरीफ के बेहद करीबी माने जाने वाले शाहिद खाकन अब्बासी के कैबिनेट मंत्रियों के शपथ के बाद पहली बैठक में ही भारत में ‘अशांति फैलाने का फैसला किया गया है’। बता दें कि पाकिस्तान पर ऐसे आरोप पिछले काफी समय से लगते रहे हैं कि वहां की सरकार जम्मू-कश्मीर में अशांति कायम रखने के लिए आतंकवाद के साथ-साथ अन्य कई तरह के हथकंडों का इस्तेमाल करता रहा है। इसके बाद अब नए प्रधानंमत्री ने भी बैठक के दैरान कश्मीर को समर्थन देने का आश्वासन दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री अब्बासी ने बैठक के दौरान भविष्य की योजनाओं की रूप रेखा बनाते हुए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा शुरू की गई ‘प्रगति और लोकतंत्र’ की यात्रा को जारी रखने का वादा किया है। इस दौरान पीएम ने 32 मुख्य प्वाइंट्स का एक एजेंडा पेश किया जिसे कैबिनेट ने मंजूर भी कर लिया।

प्रधानमंत्री एर बार फिर से कहा कि 50 अरब डॉलर के चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे, बिजली की कटौती से बचने के लिए पावर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट, इकनॉमी को वापस पटरी पर लाने का काम और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई समेत सभी परियोजनाओं पर जोर-शोर से काम किया जाएगा।

इसके साथ-साथ अब्बासी ने कहा कि कश्मीरियों की लड़ाई में पाकिस्तान नैतिक और राजनयिक सहयोग देता रहेगा। गौर हो कि पाकिस्तान इस तरह के बयान जारी कर लगातार कश्मीरियों को भड़काने का काम करती रहती है, हालांकि यहां सबसे ज्यादा विचार कश्मीरियों को ही करना है क्योंकि पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से सबसे ज्यादा नुकसान उन्हें ही उठाना पड़ता है।

loading...

Subscribe to our Channel