Breaking News
  • कुलभूषण जाधव मामले में आज आएगा फैसला, पाकिस्तानी वकील पहुंचे हेग
  • प्रयागराज : सपा सांसद अतीक अहमद के कई ठिकानों पर छापा
  • सिद्धू के इस्तीफे पर आज फैसला लेंगे पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर
  • कर्नाटक मामले में आज सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा फैसला

49 की मौत, न्यूजीलैंड में आतंकी हमले का पाकिस्तानी कनेक्शन!

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च शहर में शुक्रवार को दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी की घटना में अब तक 49 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल भी है। दिल दहला देने वाले इस नरसंहार को न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने आतंकी हमला करार दिया है।

वहीं अब इस हमले और इसमें शामिल हमलावर को लेकर कई जानकारियां सामने आ रही है। जिसके आधार पर न्यूजीलैंड में हुए आतंकी हमले का पाकिस्तान कनेक्शन भी दिख रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनमें एक महिला भी है।

गिरफ्तार किए लोगों में एक 28 साल का ब्रेंटन टैरंट है, जो इस दर्दनाक कांडा का मुख्य आरोपी है। साथ ही वह इस घटना को करीब 17 मिनट तक फेसबुक पर लाइवस्ट्रीमिंग भी कराई थी। जबकि इसके एक दिन पहले ही उसने फेसबुक के माध्यम से ऐसा संकेत दिया था कि वह कुछ ऐसा करने वाला है।

आपको बता दें कि मुख्य हमलावर ब्रेंटन टैरंट ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स का रहने वाला है। जिसने मस्जिद पर हमाला करने से पहले करीब 73 पन्नों का एक मैनिफेस्टो भी लिखा था, जिसका नाम उसने द ग्रेट रिप्लेसमेंट यानी महान बदलाव दिया था। इस मैनिफेस्टो में उसने खुद के बारे में बताने के साथ-साथ यह भी बताया है कि वह ऐसा क्यों कर रहा है।

न्यूजीलैंड: दो मस्जिदों पर भयंकर आतंकी हमले पर बयान देते हुए रोने लगीं PM…

अपने बारे में बताते हुए टैरंट लिखता है कि वह एक 28 साल का श्वेत इंसान है, जिसका जन्म एक निम्न आय वाले परिवार में हुआ। उसने स्कूल की पढ़ाई के बाद यूनिवर्सिटी जाने में कोई रूची नहीं दिखाई। कैंसर के कारण उसके पिता की मौत करीब 8 साल पहले हुई थी।

पढ़ाई में उसका मन नहीं लगता था, इसलिए उसने दुनिया घूमने की योजना बनाई और ऑस्ट्रेलिया छोड़ दिया। उसने बताया कि दुनिया घुमने के लिए बिटकॉइन ट्रेडिंग से काफी पैसे बनाए और साल 2011 में दुनिया की सैर पर निकल गया, जबकि ऑस्ट्रेलिया में उसकी मां और बहन भी रहती है।

न्यू जीलैंड आतंकी हमले में बच निकले बांग्लादेश क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने बयां किया…

दुनिया की सैर पर निकले ब्रेंटन टैरंट ने नॉर्थ कोरिया, पाकिस्तान और यूरोप समेत दुनिया के कई देशों की यात्राएं की, लेकिन उसे पाकिस्तान से काफी लगाव दिखा। वह पाकिस्तान को एक अविश्वसनीय जगह मानता है, जहां दुनिया के काफी अच्छे और बेहद ही उदार लोग रहते हैं।

उसने अपने लेख में लिखा है कि हमले की योजना दो साल पहले ही बनाई थी, लेकिन फाइनल लोकेशन तीन महीने पहले तय किया। हालांकि पहले पहले उसने एक अन्य मस्जिद को टारगेट बनाने की योजना तैयार की थी, लेकिन बाद में उसने अल नूर और लिनवुड मस्जिद को हमले के लिए चुना।

इन दोनों मस्जिद को हमले के लिए चुनने के पीछे कारण बताते हुए उसने लिखा है कि, क्योंकि वहां ज्यादा 'घुसपैठिए' थे इसलिए उसी मस्जिद को निशाना बनाया। आपको बता दें कि स्थानिय मीडिया ने  ब्रेंटन टैरंट के कुछ जानने वाले लोगों के हवाले से बताया कि, उन्हें यकीन नहीं हो रहा कि वह ऐसा कर सकता है। ऐसा लगता है कि जैसे विदेश यात्रा के दौरान उसके साथ कुछ हुआ, जिसके कारण उसने इस खौफनाक मंजर को अंजाम दिया।

जानिए कौन है न्यू जीलैंड में 49 की जान लेने वाला 'ब्रेंटन टैरंट' और उसने ऐसा क्यों किया

loading...