Breaking News
  • छत्तीसगढ विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण के लिए मतदान
  • CBI विवाद: SC में सीवीसी की रिपोर्ट और निदेशक वर्मा के जवाब की सुनवाई 29 नवंबर तक टाली
  • महाराष्ट्र: पुलगांव में सेना के हथियार डिपो में धमाका, 4 की मौत
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 4 आतंकी ढेर, एक जवान शहीद, दो घायल

पीएनबी घोटाले का सबसे बड़ा आरोपी मेहुल चौकसी ने किया एंटीगुआ सरकार के खिलाफ मुकदमा, कहा भारत...

नई दिल्ली : पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी ने अब उसी देश के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया हैं जहां वह शरण लिये हुए हैं। आपको बता दें कि मेहुल भारत में पंजाब नेशनल बैंक घोटालें का आरोपी हैं। जिस कारण वह भागकर एंटीगुआ और बारबूडा में शरण लिये हुए हैं। भारत सरकार उसके प्रत्यर्पण के लिए बारबूडा सरकार से बात कर रहीं हैं, जिससे उसे जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सकें। भारत सरकार के इस कदम से घबराकर मेहुल ने एंटीगुआ सरकार के खिलाफ ही मुकदमा दर्ज कराया। चोकसी ने मुकदमे की सुनवाई में प्रधानमंत्री या उनके स्थायी सचिव को शामिल करने की गुहार लगाई है।

ईरान का अमेरिका पर तीखा पलटवार, कहा अपने दमनकारी नीतियों से तौबा करें अमेरिका

चोकसी ने एंटीगुआ सरकार के कॉमनवेल्थ एग्रीमेंट के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इस एग्रीमेंट के तहत भारत और एंटीगुआ में प्रत्यर्पण संधि न होने के बावजूद चोकसी को भारत प्रत्यर्पित किया जा सकता है। भारत के साथ 2001 में एंटीगुआ के मंत्री ने यह करार किया था। इसे 'कॉमनवेल्थ कंट्रीज अमेंडमेंट ऑर्डर' के नाम से जाना जाता है। कॉमनवेल्थ देशों के साथ यह करार होने के बाद भारत और एंटीगुआ प्रत्यर्पण के दायरे में स्वतः आ जाते हैं। एंटीगुआ के अटॉर्नी जनरल ऑफिस ने यह जानकारी दी है। इस बाबत स्थानीय सरकार को पक्षकार बनाते हुए चोकसी की ओर से नोटिस जारी किया गया है। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही मेहुल के सबसे करीबी माने जाने वाले दीपक कुलकर्णी को भारत ने गिरफ्तार किया हैं। जो कि हांगकांग से भारत आ रहा था।  बता दें कि कुलकर्णी को पीएमएल एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है।

ब्रिटिश मीडिया ने कसा भारत पर तंज, कहा कर्ज लेकर भारत में हो रहा मूर्ति निर्माण

सूत्रों की मानें, दीपक ही हांगकांग में मेहुल चोकसी का पूरा बिजनेस संभालता था। यहां तक कि वह चोकसी की किसी फर्जी कंपनी का डायरेक्टर भी था। सीबीआई और ईडी की तरफ से दीपक के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया था, तभी से उसकी तलाश चल रही थी।

श्री लंका में अशांति , विक्रमसिंघे ने कहा, “ हो सकता है खूनी संघर्ष”

 

loading...