Breaking News
  • दिवाली तक कम हो सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें- सूत्र
  • रोहिंग्या और रखाइन में शांति की पूरी कोशिश की- म्यंमार की सर्वोच्च नेता आंग सान सू
  • गुरूग्राम: सुरक्षा कारणों से फिर से बंद हुआ रेयान स्कूल, अब 25 सितंबर को खुलेगा
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा का 72वां सत्र मंगलवार से- शनिवार को विदेश मंत्री स्वराज का संबोधन

यहां भगवान गणेश को खिलाया मांस, गुस्से में लोग...

NEW DELHI:- देश में कई धर्म मौजूद है औऱ हर कोई इसका सम्मान करता है। लेकिन कई बार केवल अपने फायदे के लिए कुछ ऐसा कर जाते है जिससे इस धर्म पर अस्था रखने वाले लोगों की भवानांए आहत होती है।

हाल ही में एक ऑस्ट्रेलियाई विज्ञापन से देश में विवाद शूरू हो गया है।आपको बता दें कि इस विज्ञापन में गणेश जी को मांस खाते दिखाया गया है जिसके कारण खास कर हिंदु समूह में खासी नाराजगी है।

इस विज्ञापन में, विभिन्न धर्मों के धार्मिक नेता और देवता एक साथ बैठे हैं और भेड़ के बच्चे खा रहे हैं। जाहिर सी बात है यह हिंदुओं के धार्मिक भावना के खिलाफ है। हिंदुओं में गणेश जी को भगवान का दर्जा है और उनकी पूजा की जाती है। विज्ञापन में दिखाए गए लोगों में रॉन हबर्ड, ओबी वान केनोबा, स्टार वार्स, ज़ीउस, लॉर्ड बुद्ध, एफ़्रोडिट, मूसा, यीशु मसीह और गणेश जी भी शामिल हैं।

ऑस्ट्रेलिया में हिंदुओं को इस पर बहुत गहरा दुख हुआ है। निर्माताओं को संवेदनशीलता की कमी के लिए और बारबेक्यू में  भगवान को दिखाने के लिए हिंदुओं समूह  के भावना के खिलाफ माना जा रहा है ।

यह भी पढ़ें:- फिल्म में रोल के लिए इस डायरेक्टर के साथ सोई थी ऐश्वर्या राय बच्चन...

ऑस्ट्रेलिया में हिंदू समुदाय इस विज्ञापन पर प्रतिबंध चाहता है हिंदू समुदाय के प्रवक्ता नितिन वशिष्ठ ने कहा है कि विज्ञापन में नैतिकता की कमी है और इसे वापस लेना चाहिए।

दूसरी ओर, विपणन प्रबंधक एंड्रयू होवी ने स्पष्ट किया और कहा, "हम जानते हैं कि मेमने मांस बना रहे है जो दशकों से सभी को एक साथ लाते है, और आधुनिक वसंत बारबेक्यू की तुलना में उत्पाद का जश्न मनाने का बेहतर तरीका है।

अब तक विज्ञापन मानक ब्यूरो को लगभग 30 शिकायतें मिली हैं। देखते हैं कि क्या कार्रवाई की जाती है। विडीयो वायरल होने के बाद से सोशल मीडिया पर लोग अपना विरोध व्यक्त कर रहे है ।

इस पर आपका क्या कहना है?

REPORT:ANIRUDH GOPAL   

loading...