Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

जंग हुई तो भारत जिम्मेदार होगा : इमरान खान

नोएडा : दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश भारत 15 अगस्त 2019 को अपना 73वां जन्मदिन मनाने को तैयार है। स्वतंत्रता दिवस की तैयरियों में पूरा हिंदुस्तान तिरंगे से पटा पड़ा है, इंतजार है तो 14 अगस्त की काली रात ढलने का, जब चंद लोगों की लालच के कारण हिंदुस्तान को खंडित कर एक ऐसे पाकिस्तान का निर्माण किया गया जो अपने जन्म के साथ ही भारत में अशांति की ज्वाला भड़काता रहा है। और आजादी के सात दशक बाद भी पाकिस्तान उसी रास्ते पर है। जरा देखिए जिस आजादी के जश्न के लिए भारत में जलेबियों का टाल लगा है, उसी आजादी पर पाकिस्तानी पीएम इमरान खान जहर घोल रहे है।

घर मा नाहीं दाने, अम्मा चलीं भुनाने...ये अवधी मुहावरा पड़ोसी पाकिस्तान और उनके वजिर ए आजाम इमरान खान पर पूरी तरह से सूट करता है। याद किजिए कि जो पाकिस्तान दाने-दाने को मोहताज है, आर्थिक तंगी से उबरने के लिए डॉलर के जुगाड़ में जुटा हैं, वो उस भारत को गीदड़भभकी देता है जिसके गौरवगान की गाथा पूरी दुनिया के लिए मिशाल बनी है।

पाकिस्तान के आजादी दिवस के मौके पर खान ने पीओके के मुज़फ्फराबाद में दिए अपने संबोधन में भारत के खिलाफ जमकर जहर उगला। पाकिस्तान में भले ही अल्पसंख्यकों की जिंदगी जहन्नुम बनी है, पाकिस्तान की हालत भले ही पैइसा ना कौड़ी, बीच बाजार में दौड़ा-दौड़ी वाली बनी है, लेकिन इमरान को भारत की चिंता खाए जा रही है। इमरान खान को इस बात की चिंता सता रही है, जम्मू-कश्मीर के साथ जो करना था वो भारत ने कर दिया, और अब ऐसा ही पाकिस्तान में भी होने वाला है।

इससे पहले की खान के नापाक एजेंडों का पर्दाफाश करे, जरा इसे समझिए कि जम्मू-कश्नीर से धारा 370 हटने के बाद इमरान के दिमाग में आखिर चल क्या रहा है, जिसने उन्हें पूरी तरह से खौफ में भर दिया है। हालांकि हम इसकी पुष्टि नहीं करते, लेकिन खान को भनक लग गई है कि...

 

भारत से और हिमाकत भारी पड़ सकती है।

भारतीय सेना pok में स्ट्राइक के लिए तैयार है।

अब की बार सेना पहले से भी अधिक ताकत से स्ट्राइक कर सकती है।

बीजेपी की सरकारी का एजेंडे ही यही है।

आरएसएस का जिन्न बाहर निकल गया है।

अभी और भी बहुत कुछ होने वाला है।

लेकिन हकीकत ये है कि इमरान खान के ये दावे पूरी तरह बेदम है। और वह ऐसा इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि चुनावी दिनों में खान ने पाकिस्तानी आवाम को काया-कल्प का भरोसा दिलाया था, लेकिन खान के सत्ता संभालने से पहले और संभालने के बाद भी पाकिस्तान this और THAT का अंतर नहीं समझ पा रहा है। तभी तो अपनी तसरीफ से सड़कती कुर्सी बचाने का जुगाड़ तलाश रहे चच्चा जान जहर उड़ल रहे हैं।

loading...