Breaking News
  • केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने नई metrorailpolicy को मंजूरी दी
  • मध्यप्रदेश: स्थानीय निकाय चुनाव में BJP की जीत
  • केरल के कथित धर्मांतरण मामले की जांच NIA के हवाले: सुप्रीम कोर्ट
  • दिल्ली, यूपी समेत कई राज्यों में फैला स्वाइन फ्लू- अबतक 600 लोगों की मौत
  • सिंचाई परियोजनाओं के लिए 9,020 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि मंजूर
  • अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

जब 400 भारतीय जवानों ने बुलडोजर लेकर कर दी इस देश पर चढ़ाई!

डोकलम: भारत चीन के बीच बने सिक्किम सीमा विवाद पर बुधवार को चीन की ओर से 15 पेज का बयान जारी किया गया। बयान में चीन ने भारत पर बड़ा आरोप लगाया है। कहा गया है कि जून में बड़ी संख्या में भारतीय सेना बुल्डोजर लेकर घुस आई थी। उनका इरादा क्या था इसके बारे में स्पष्ट नहीं बताया गया है।  

बुधवार को चीन ने भारत पर बड़ा आरोप लगाते हुए 15 पेज का एक बयान पत्र जारी किया, जिसमें चीन ने कहा कि भारत डोकलम मुद्दे पर बढ़ावा दे रहा हैम, साथ ही चीन ने कहा कि डोकलम पर भारत थर्ड पार्टी के रूप में दखल दे रहा है। चीन ने आरोप लगाया है कि भारत भूटान को एक बहाने के तौर पर ही इस्तेमाल कर रहा है, अगर चीन और भूटान के बीच में कोई विवाद है, तो दोनों देशों के बीच ही रहना चाहिए। बयान में चीन ने भूटान को भड़काते हुए लिखा है कि भारत डोकलम के नाम पर चीन ही नहीं भूटान की आजदी और संप्रभुता को चुनौती दे रहा है।

इसके साथ ही चीन ने भूटान से कहा कि डोकलम में चीन और भूटान का विवाद है, इसमें भारत क्यों हस्तक्षेप कर रहा है। इसके साथ ही चीन ने भारत पर बड़ा गंभीर आरोप लागते हुए कहा कि 18 जून को भारत के 400 से अधिक जवान बुलडोजर लेकर 180 मीटर तक चीनी इलाके में घुसे आये थे।

इसके अलावा जुलाई में भी भारतीय सेना के कई जवान बुलडोजर के साथ चीनी सीमा में घुस आये थे। इन आरोपों के साथ चीनी सेना PLA की ओर से कहा गया वह चीन की संप्रभुता की हिफाजत के लिए कटिबद्ध है। वह किसी भी हाल में चीनी सीमा में किसी के दखल को स्वीकार्य नहीं करेगी। साथ ही PLA और चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत बिना किसी शर्त के अपनी सेना पीछे हटा ले।   

loading...

Subscribe to our Channel