Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहुंचे राहुल गांधी
  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार
  • मां से आशीर्वाद लेने के लिए कल गुजरात जाएंगे मोदी
  • सूरत अग्निकांड में अब तक 21 की मौत, 3 के खिलाफ FIR दर्ज
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी का दहशतगर्द साला गिरफ्तार

नई दिल्ली: पाकिस्तान प्रयोजित आतंकवाद से पीड़ित भारत सरकार की अंतरराष्ट्रीय गोलबंदी का असर अब साफ दिखने लगा है। आतंकवाद के खिलाफ भारत समेत दुनिया के अन्य देशों के दवाब में आकर पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई को मजबूर दिख रहा है। हाल ही में भारत के प्रयासों के बाद संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तानी आतंकी अजहर मसूद को वैश्विक आतंकियों की सूची में डाला है। जिसके बाद से पाकिस्तान पर आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का दवाब बढ़ रहा है।

इस कड़ी में एक और अच्छी खबर है कि पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के प्रमुख आतंकी हाफिज सईद के साले अब्दुल रहमान मक्की को गिरफ्तार कर लिया है। मुंबई हमले में मोस्ट वांटेड आतंकी अब्दुल रहमान मक्की की गिरफ्तारी पंजाब प्रांत के गुजरांवाला से हुई है। जिसे फिलहाल लाहौर की जेल में रखा गया है।

आपको बता दें कि मक्की की गिरफ्तारी जमात-उद-दावा, फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन और जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े 11 संगठनों पर बैन लगने के कुछ दिन बाद हुई है।  मक्की ने गुजरांवाला में सरकार के प्रतिबंधित संगठनों के खिलाफ भाषण दिया था। मक्की ने अपने भाषण में FATF यानी फाइनेंसियल एक्शन टास्क फोर्स के दिशानिर्देशों के अनुरूप उठाए गए कदमों की भी आलोचना की थी।

बताया जाता है कि वह जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन के लिए फंड जुटाने का काम करता था। जिसका जमात-उद-दावा पर गहरा प्रभाव है। वह इस संगठन में अपने जीजा के बाद दूसरे नंबर का आतंकी माना जाता है। जो अपने लोगों के बीच खास तौर पर भारत के खिलाफ जहर उगलने के लिए जाना जाता है। जबकि वह भारत में हुए कई आतंकी हमलों में अप्रत्क्ष रूप से शामिल भी रहा है।

loading...