Breaking News
  • युद्ध अपराधों के खिलाफ अभियान नहीं रोक सकता पाकिस्तान: WBO
  • विरोधी पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुके हैं- घर बैठे ट्वीट कर रहे है: योगी
  • भारतीय छात्रा की तस्वीर से छेड़छाड़ कर पोस्ट भेजने के मामले में 'पाकिस्तान डिफेंस' का वेरिफ़ाइड अकाउंट सस्पेंड
  • गोवा: आज से शुरू हो रहा है 48वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

चुनाव आयोग ने फेरा आतंकी हाफिज सईद के मंसूबों पर पानी, दिया बड़ा झटका

इस्लामाबाद: राजनीति की आड़ में आतंकवाद की दूकान चलने की मंशा रखने वाले भारत के मोस्ट वांटेड और मुंबई हमलों के गुनहगार को पाकिस्तानी चुनाव आयोग ने बड़ा झटका दिया है। आयोग ने हाफिज  सईद के आतंकी संगठन जमाटी उद दावा द्वारा मिल्ली मुस्लिम लीग नामक पार्टी को मंजूरी देने से मना कर दिया है। इससे पूर्व खबरें आई थी कि चुनाव आयोग ने पार्टी को मंजूरी दी है।

बतादें कि पाकिस्तान में बदले राजनीतिक हालात का फायदा लेकर राजनीत में उतरने की मंशा संजोये आतंकी हाफिज सईद को एक और बड़ा हटका लगा है। पाकिस्तान चुनाव आयोग ने हाफिज सईद की राजनीतिक पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग को मान्यता नहीं दी है। साथ ही इस पार्टी के चुनाव लडने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

मोदी के पर्यटन मंत्री का बयान- अपने देश में ‘बीफ’ खाकर भारत में आएं...

पाकिस्तानी चुनाव आयोग ने मिल्ली मुस्लिम लीग पर रोक इसलिए लगाई है क्योंकी पार्टी के पोस्टरों में हाफिज सईद की फोटो का इस्तेमाल किया जा रहा है। जबकि हाफिज सईद पर भारत से लेकर अमेरिका तक सख्त रुख अपनाए हुए है। भारत के प्रयासों के चलते ही अमेरिका ने पाकिस्तान पर प्रतिबन्ध लगाने की धमकी दी थी जिसके बाद पाकिस्तान ने हाफिज सईद को नजरबन्द किया था।

वहीँ हाफिज सईद को पाकिस्तान में खुले आम घूमता नजर आता है, उसके संगठन जमात उद दावा के संरक्षण में एक माह पहले ही मिल्ली मुस्लिम लीग पार्टी बनाई थी। पार्टी के जरिये हाफिज सईद राजनीत की आड़ में अपने आतंकी मंसूबों को पूरा करना चाहता था, लेकिन पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने उसके इन नापाक मंसूबों पर पानी फेर दिया है।  

यह भी देखें-

loading...