Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • आतंकवाद के खिलाफ़ कार्रवाई में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 36 घंटों के अंदर 8 आतंकी ढेर
  • पाकिस्तान ने राष्ट्रीय दिवस पर अलगाववादी नेताओं को किया आमंत्रित, भारत ने जताया सख्त ऐतराज
  • शहीद दिवस पर आजादी के अमर सेनानी वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को नमन कर रहा है देश
  • आज IPL के 12वें सीजन का आरंभ, एम एस धोनी और विराट कोहली आमने-सामने

पूरी तरह अकेले पड़ चुके हैं ट्रंप, जानिए आखिर 35000 करोड़ रुपये क्यों मांग रहे हैं...

नई दिल्ली: आज 25 दिसंबर को दुनिया भर में खुशियों का त्योहार क्रिसमस मनाया जा रहा है। लोग अपने-अपने घरों को सजाने के साथ-साथ अपने घर क्रिसमस ट्री लगा रहे हैं और बच्चों के साथ खुशियां मना रहे हैं। वहीं दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों में से एक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप क्रिसमस के मौके पर भी अकेलापन महसूस कर रहे हैं।

दरअसल, क्रिसमस से ठीक पहले ट्रंप ने एक ऐसा ट्वीट किया जो सोशल मीडिया पर देखते ही देखते वायरल होने लगा। अपने ट्वीट में ट्रंप ने कहा, “मैं (बेचारा) बिल्कुल अकेला हूं, वाइट हाउस में डेमोक्रेट्स पार्टी के लोगों के वापस आने का इंतजार कर रहा हूं ताकि सीमा सुरक्षा के लिए जरूरी डील किया जा सके। समय पर सीमा पर दीवार का निर्माण नहीं कराना देश को उसकी कीमत से कहीं ज्यादा कीमती पड़ेगा”।

आखिर 25 दिसंबर को ही क्यों मनाते हैं क्रिसमस और कौन हैं सांता क्लॉज

आपको बता दें कि ट्रंप ने यह ट्वीट अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के मसले को लेकर किया है। गौरतलब हो कि सीमा पर दीवार बनाने के लिए ट्रंप अमेरिकी संसंद में प्रस्ताव रखा था, लेकिन विपक्षी डेमोक्रेट्स के सदस्यों के बारी विरोध के बाद आंशिक कामबंदी का आज चौथा दिन है।

भारत रत्न वाजपेयी की याद में 100 रुपये का नया सिक्का लॉन्च, जानिए क्या…

अमेरिका में शटडाउन के कारण कामकाज पूरी तरह से प्रभावित हो रहा है। क्रिसमस के मौके पर लोगों को शटडाउन के कारण कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यूएस-मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के लिए ट्रंप प्रशासन ने करीब 35,000 करोड़ रुपये की माग की है। लेकिन संसद में सहमति नहीं बनने के बाद राष्ट्रपति ने शटडाउन का ऐलान किया है।

मरते किसानों के जिस्म में योगी ने डाल दी जान, 325 करोड़ रुपये भी दिए!

loading...