Breaking News
  • सोनभद्र जाने पर अड़ी प्रियंका गांधी, धरने का दूसरा दिन
  • असम और बिहार में बाढ़ से 150 लोगों की गई जान, 1 करोड़ से अधिक लोग प्रभावित
  • इलाहाबाद हाइकोर्ट ने पीएम मोदी को जारी किया नोटिस, 21 अगस्त को सुनवाई
  • कर्नाटक पर फैसले के लिए अब सोमवार का इंतजार

विकास तभी विकास है जब वह असामनता को घटाता और सशक्तिकरण को बढ़ाता है – पीएम मोदी

नोएडा : पीएम मोदी दो दिवसीय दौरे पर जापान के ओसाका गए हुए है। जहां वे G20 सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले है। यह सम्मेलन 28 और 29 जून को चलेगा। जिस दौरान पीएम मोदी ने 28 जून यानी शुक्रवार को जी-20 सम्मेलन के दौरान ब्रिक्स देशों के राष्ट्राध्यक्षों से मुलाकात की। इस मुलाकात के दरम्यान उन्होंने आतंकवाद का भी मुद्दा उठाया। पीएम मोदी ने कहा, “आतंकवाद के सभी रास्ते बंद होने चाहिए और आतंकवाद पर एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन भी होना चाहिए।“

पीएम मोदी ने कहा, ''आतंकवाद मानवता के लिए एक बड़ा और गंभीर खतरा है। यह न सिर्फ निर्दोष लोगों की जान लेता है, बल्कि यह आर्थिक प्रगति और समाजिक स्थिरता पर बुरा असर डालता है। हमें आतंकवाद और जातिवाद को समर्थन देने वालों के सभी रास्ते बंद करने होंगे।“

उन्होंने कहा, ‘‘आज, मैं तीन प्रमुख चुनौतियों पर अपना ध्यान केंद्रित करूंगा. पहली है, वैश्विक अर्थव्यवस्था में अस्थिरता और गिरावट। नियम आधारित बहुपक्षीय वैश्विक व्यापार प्रणाली पर एकपक्षवाद और प्रतिस्पर्धात्मकता का प्रभाव है.’’  मोदी ने कहा, ‘‘संसाधनों की कमी, आधारभूत ढांचे में निवेश में लगभग 1.3 खरब अमेरिकी डॉलर के निवेश की कमी है.’’

पीएम मोदी ने कहा, विकास को सतत् और समावेशी बनाना, “डिजिटलाइजेशन जैसी तेजी से बदलती तकनीकें और जलवायु परिवर्तन मौजूदा और आने वाली पीढ़ियों के लिये चुनौती पेश करती हैं। विकास तभी सार्थक है जब यह असमानता घटाए और सशक्तिकरण में योगदान दे।“

इसके साथ ही उन्होंने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) को मजबूत बनाने, संरक्षणवाद से लड़ने, ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित करने और साथ मिलकर आतंकवाद से लड़ने की जरूरत पर भी बल दिया।

आपको बता दें कि पीएम मोदी ने ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका) देशों के साथ ही, जेएआई (जापान, अमरीका और भारत) के नेताओं के साथ भी अनौपचारिक बैठक में हिस्सा लिया।

loading...