Breaking News
  • जो राम का नहीं, वो किसी काम का नहीं-धमतरी में CM योगी
  • दौसा के बीजेपी सांसद हरीश मीणा कांग्रेस ज्वॉइन करेंगे
  • गहलोत बोले, मैं और सचिन पायलट मिलकर लड़ेंगे चुनाव
  • SC ने प्रशांत भूषण से कहा, कोर्ट में उतना ही बोलें जितना ज़रूरी हो

चीनी सैनिकों का भारत पर डबल अटैक, एक तरफ चीनी सैनिक तो दूसरी तरफ...

नई दिल्ली : डोकलाम विवाद के बाद एक बार फिर चीन ने भारत के पीठ पर छुरा घोंपने का काम किया है। जहां वो विश्व स्तर पर भारत के साथ मिलकर साझा व्यापार करना चाहता है वहीं वह दूसरी तरफ अपनी कूटनीतिक चाल चल रहा है। एक बार फिर जहां चीनी सैनिक अपने दुस्साहसी कदम को अंजाम देते हुए अरूणाचल प्रदेश सीमा में प्रवेश किये वहीं दूसरी तरफ जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में एक चीनी हेलीकॉप्टर भारतीय हवाई सीमा में घुसने की कोशिश की।

एक बार फिर जाग उठा सिद्धू का 'पाकिस्तान प्रेम', कहा हिंदुस्तान से बेहतर पाकिस्तान, पढ़े पूरी खबर

करीब 5 मिनट तक भारतीय सीमा में रहा चीनी हेलिकॉप्टर

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) की रिपोर्ट से यह खुलासा हुआ है कि चीन के दो हेलिकॉप्टर भारतीय सीमा में देखे गए। रिपोर्ट के अनुसार, ये दोनों हेलिकॉप्टर बीते 27 अगस्त को सुबह करीब 9 बजे लद्दाख के बुर्तसे और ट्रैक जंक्शन पोस्ट के आसपास देखे गए। ITBP रिपोर्ट के अनुसार दोनों चीनी हेलीकॉप्टर MI-17 की तरह दिख रहे थे। ये हेलिकॉप्टर करीब 5 मिनट तक भारतीय हवाई क्षेत्र में रहे।

नोटबंदी के बाद सरकार ने उठाया एक और कड़ा कदम, अब…

महत्वपूर्ण है यह इलाका

लद्दाख के बुर्तसे और ट्रैक जंक्शन पोस्ट ट्रिग हाईट और डेपसांग इलाके में पड़ते हैं। सूत्रों के मुताबिक लद्दाख के ट्रिग हाईट और डेपसांग का ये इलाका भारत के लिए रणनीतिक तौर पर काफी महत्व रखता है। यही वजह है कि चीन यहां कब्जा करने की कोशिश में रहता है और बार-बार घुसपैठ के प्रयास करता है। इसी इलाके में भारत का महत्वपूर्ण दौलत बेग ओल्डी एयरफील्ड भी है, जिस पर चीन घुसपैठ के जरिए नजर रखने की फिराक में रहता है।

कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर के सिर कलम करने पर इस ब्रिगेड ने रखा 1 करोड़ का इनाम

एक बार फिर अरुणाचल में घुसपैठ

लद्दाख में हवाई सीमा का उल्लंघन करने वाले चीनी सैनिकों ने जमीनी बॉर्डर को भी पार कर लिया। खबर है कि अरुणाचल प्रदेश की दिवांग घाटी में क्षेत्र के ग्रामीणों ने चीनी सुरक्षाबलों के दाखिल होने की जानकारी दी। ये घटना कुछ दिन पहले की बताई जा रही है। हालांकि, इस मसले पर सेना की तरफ से बताया गया है कि यह उल्लंघन जैसा नहीं है क्योंकि एलएसी (वास्तविक नियंत्रण रेखा) को लेकर विवाद के चलते पेट्रोलिंग उसी आधार पर की जाती है।

बड़ी खबर : गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत गंभीर, ICU में भर्ती

loading...