Breaking News
  • काबूल: PD6 इलाके में डिप्टी सीईओ के घर के पास कार धमाका, 10 लोगों के मारे जाने की खबर
  • सावन का तीसरा सोमवार आज, शिवालयों में भक्तों की लंबी कतार
  • आज शाम 7.30 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संबंधोन
  • इसरो के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर यूआर राव का निधन- पीएम मोदी ने जताया दुख
  • महिला विश्व कप 2017: फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 9 रनों से हराया

चीनी अखबार का तर्क- ऐसा नहीं हुआ तो भारत-चीन में तय है जंग


नई दिल्ली: भारत-चीन के बीच सिक्किम सेक्टर में सीमा विवाद पर जारी तनाव के बीच चीनी अखबार ने भारत को धमकी देते हुए कहा कि इस विवद के कारण भारत को चीन से युद्द भी करना पड़ सकता है। चीनी विशेषज्ञों की माने तो चीन अपनी सम्प्रभुता की रक्षा करने के लिए भारत के साथ युद्द भी कर सकता है।

चीन की सरकारी मीडिया और थिंकटैंक्स के हवाले से बताया जा रहा है कि यदि भारत और चीन के बीच विवाद को जल्द खत्म नहीं होता है तो दोनों देशों के बीच युद्ध भी संभव हैं। बता दें कि जम्मू-कश्मीर से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक चीन के साथ जुड़ी भारतीय सीमा की 3,488 किलोमीटर लंबी है जिसाका 220 किलोमीटर का हिस्सा सिक्किम सेक्टर में आता है।

इस मुस्लिम संगठन ने की ‘गाय को राष्ट्रीय पशु’ घोषित करने पर समर्थन की अपील

इन सीमाओं को लेकर भारत को चीन के साथ अक्सर तनातनी का सामना करना पड़ता है। इसके अलाव चीन रह-रह कतर भारत के खिलाफ चाल भी चलता रहता है और शांति प्रिय देश भारत को युद्ध के लिए उकसाता रहता है। चीन के साथ हालिया विवादों और युद्ध की धमकियों को लेकर पिछले दिनों भारत के रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि 2017 का भारत 1962 के भारत जैसा नहीं है।

दुनिया की सबसे खूबसूरत महिलाओं में से एक थीं महारानी गायत्री देवी...

लेकिन अब जेटली के उस बयान पर शंघाई म्युनिसिपल सेन्टर फॉर इंटरनेशनल स्टडीज में प्रोफेसर वांग देहुआ का कहना है कि चीन भी 1962 से बहुत अलग है, और अगर दोनों देशों के बीच इस विवाद का शांति से अंत नहीं होता है तो फिर यह एक विनाशकारी कदम होगा।

ऐसे कानून को आखिर कैसे झेलते होंगे लोग- जानिए कुछ अजब-गजब कानून

आपको बता दें कि चीनी अखबर के अनुसार 1962 में, चीन ने भारत के साथ युद्ध किया था, इसका परिणाम यह हुआ कि चीन के 722 सैनिक मारे गए थे, जबकि भारत को अपने 4,383 सैनिकों से हाथ धोना पड़ा था।

 

loading...