Breaking News
  • काबूल: PD6 इलाके में डिप्टी सीईओ के घर के पास कार धमाका, 10 लोगों के मारे जाने की खबर
  • सावन का तीसरा सोमवार आज, शिवालयों में भक्तों की लंबी कतार
  • आज शाम 7.30 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संबंधोन
  • इसरो के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर यूआर राव का निधन- पीएम मोदी ने जताया दुख
  • महिला विश्व कप 2017: फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 9 रनों से हराया

डोकलाम पर चीन ने फिर दी भारत को बंदर घुड़की


बीजिंग: सिक्किम में भारत-चीन सीमा विवाद जल्द खत्म होता नजर नहीं आ रहा है। रविवार को भारत चीन सीमा विवाद को लेकर एकबार फिर चीनी मीडिया ने भारत पर दवाब बनाने की कोशिश की है। चीनी मीडिया ने कहा कि जबतक भारत सीमा से सैनिक नही हटाएगा तब तक वार्ता होने की कोई संभावना नहीं है।

सिक्किम क्षेत्र के डोकलाम में चीन के साथ तनाव खत्म होने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही है। रविवार को विदेश मंत्रालय की ओर से डिप्लोमेटिक चैनल के इस्तेमाल की बात कहने पर चीन की सरकारी मीडिया ने एकबार फिर से भारत पर दवाब बनाने के लिए लेख छापा है। चीन की आधिकारिक प्रेस एजेंसी सिन्हुआ में छपे एक लेख के मुताबिक इस मामले में मोलभाव के लिए कोई जगह नहीं है। वहीँ पूरे मामले पर भारत भी चाहता है कि दोनों  देशों के बीच बना गतिरोध कम हो, लेकिन भारत सिक्किम के डोकलाम से अपनी सेना किसी भी सूरत में पीछे नहीं बुलाना चाहेगा। ऐसे में दोनों देशों के बीच जारी तनाव कम होने की बजाय बढ़ने की संभावना है।

चीन की स्टेट काउंसिल के तहत काम करने वाली और आधिकारिक प्रेस एजेंसी सिन्हुआ के एक लेख में कहा गया है कि चीन के लिए सीमा रेखा ही बॉटम लाइन थी। ऐसा पहली बार नहीं है कि चीन की सरकारी मीडिया ने इस वाक्य का प्रयोग किया है। वहीँ भारत के साथ वार्ता को लेकर पहले भी चीनी मीडिया ऐसी ही बयानी कर चुका है। इस बार भारत ने सिक्किम में बेहद कड़ा रुख अपनाया हुआ है, जिससे चीन को मिर्ची लगी हुयी है। चीन बुरी तरह बौखलाया है। एकओर चीन भारत के कड़े रुख से हतप्रभ है तो दूसरी ओर वह विश्व पटल पर भी उसका रूप सामने आ रहा है कि किस तरह दुसरे देशो की संप्रभुता को वह ठेस पहुंचाता है।   

loading...