Breaking News
  • आज मनाया जा रहा है विश्व मातृभाषा दिवस, इस साल का थीम है 'सतत विकास के लिए भाषाई विविधता और बहुभाषावाद की संख्या'
  • लखनऊ से बिजनोर लौट रहे नूरपुर से भाजपा विधायक Lokender Singh का सड़क हादसे में निधन, दो की मौत
  • लखनऊ: प्रधानमंत्री मोदी द्वारा निवेशकों के शिखर सम्मेलन का उद्घाटन
  • मुख्य सचिव के साथ बदसलूकी के आरोप में AAP विधायक प्रकाश जरवाल गिरफ्तार
  • PNB घोटाला: जीएम रैंक के अधिकारी Rajesh Jindal गिरफ्तार, 2009 से 2011 के बीच थे शाखा के प्रमुख

भारत ने चीन को ऐसा हड़काया कि पूरी दुनिया देखती रह गयी !

नई दिल्ली/ब्रसेल्स: भारत चीन के बीच सिक्किम में बने तनाव के पर भारत के भी सख्त रवैये से पूरा विश्व चकित है। हर बार की तरह ही चीन भारतीय सीमा में अपनी दादागिरी पर उतारू है, लेकिन इसबार भारत ने भी पहलीबार ऐसा सख्त रुख अपनाया जिससे चीन का पसीना छूट गया है। वहीँ चीन पर भारत के सख्त रुख की चौतरफा तारीफ़ हो रही है।   

बतादें कि सिक्किम में डोकलाम पर भारतीय सेना ओर चीनी सेना आमने सामने डटी हुई है। ऐसे में इसबार चीन को अंदाजा भी नहीं था कि भारत की तरफ से कड़ी प्रक्रिया आएगी और भारत इसबार किसी भी हाल में पीछे हटने के मूड में नहीं है।

यह टिप्पणी यूरोपीय संसद के उपाध्यक्ष अरेसार्द जारनेतस्की ने अपने एक लेख में की है। जारनेत्सकी ने अपने इस लेख में बीजिंग के उस झूठ का भी पर्दाफाश किया है, जिसमें उसने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को विश्वास दिलाते हुए कहा था कि उसके शांतिपूर्ण उदय किसी भी देश की स्थापित व्यवस्था के लिए खतरा नहीं बनेगा। वहीँ भारत के सख्त रवैये पर उन्होंने ख़ुशी जताई है उन्होंने लिखा है कि चीन को उसी की भाषा में समझाना ही बेहतर है।

उन्होंने डोकलाम को लेकर भारत और भूटान के साथ चीन के विवाद का जिक्र करते हुए लिखा है, डोकलाम के डोकला से जोम्पेलरी स्थित भूटान आर्मी कैंप की ओर सडक़ बनाने का एकतरफा फैसला उसकी गलत विदेश नीति को दर्शाता है। ऐसे में भारत का साहस देखने लायक है। भारत इस सामी चीन को उसी की भाषा में समझा रहा है।

मालूम हो कि सिक्किम में भारत चीन समा विवाद पर लगातार गतिरोध बना हुआ है। चीन की धमकी के बाद भी भारतीय सेना ने पीछे हटने का नाम नहीं लिया। साथ ही भारत ने कड़ा रुख अपनाते हुए चीन को उसी की भाषा में समझा भी दिया है। ऐसे में चीन भी हतप्रभ है कि भारत का रुख इसबार पहले जैसा नहीं है। भारत किसी भी हाल में पीछे हटने के मूड में नहीं है।  

loading...