Breaking News
  • काबूल: PD6 इलाके में डिप्टी सीईओ के घर के पास कार धमाका, 10 लोगों के मारे जाने की खबर
  • सावन का तीसरा सोमवार आज, शिवालयों में भक्तों की लंबी कतार
  • आज शाम 7.30 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संबंधोन
  • इसरो के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर यूआर राव का निधन- पीएम मोदी ने जताया दुख
  • महिला विश्व कप 2017: फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 9 रनों से हराया

भारत ने चीन को ऐसा हड़काया कि पूरी दुनिया देखती रह गयी !


नई दिल्ली/ब्रसेल्स: भारत चीन के बीच सिक्किम में बने तनाव के पर भारत के भी सख्त रवैये से पूरा विश्व चकित है। हर बार की तरह ही चीन भारतीय सीमा में अपनी दादागिरी पर उतारू है, लेकिन इसबार भारत ने भी पहलीबार ऐसा सख्त रुख अपनाया जिससे चीन का पसीना छूट गया है। वहीँ चीन पर भारत के सख्त रुख की चौतरफा तारीफ़ हो रही है।   

बतादें कि सिक्किम में डोकलाम पर भारतीय सेना ओर चीनी सेना आमने सामने डटी हुई है। ऐसे में इसबार चीन को अंदाजा भी नहीं था कि भारत की तरफ से कड़ी प्रक्रिया आएगी और भारत इसबार किसी भी हाल में पीछे हटने के मूड में नहीं है।

यह टिप्पणी यूरोपीय संसद के उपाध्यक्ष अरेसार्द जारनेतस्की ने अपने एक लेख में की है। जारनेत्सकी ने अपने इस लेख में बीजिंग के उस झूठ का भी पर्दाफाश किया है, जिसमें उसने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को विश्वास दिलाते हुए कहा था कि उसके शांतिपूर्ण उदय किसी भी देश की स्थापित व्यवस्था के लिए खतरा नहीं बनेगा। वहीँ भारत के सख्त रवैये पर उन्होंने ख़ुशी जताई है उन्होंने लिखा है कि चीन को उसी की भाषा में समझाना ही बेहतर है।

उन्होंने डोकलाम को लेकर भारत और भूटान के साथ चीन के विवाद का जिक्र करते हुए लिखा है, डोकलाम के डोकला से जोम्पेलरी स्थित भूटान आर्मी कैंप की ओर सडक़ बनाने का एकतरफा फैसला उसकी गलत विदेश नीति को दर्शाता है। ऐसे में भारत का साहस देखने लायक है। भारत इस सामी चीन को उसी की भाषा में समझा रहा है।

मालूम हो कि सिक्किम में भारत चीन समा विवाद पर लगातार गतिरोध बना हुआ है। चीन की धमकी के बाद भी भारतीय सेना ने पीछे हटने का नाम नहीं लिया। साथ ही भारत ने कड़ा रुख अपनाते हुए चीन को उसी की भाषा में समझा भी दिया है। ऐसे में चीन भी हतप्रभ है कि भारत का रुख इसबार पहले जैसा नहीं है। भारत किसी भी हाल में पीछे हटने के मूड में नहीं है।  

loading...