Breaking News
  • युद्ध अपराधों के खिलाफ अभियान नहीं रोक सकता पाकिस्तान: WBO
  • विरोधी पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुके हैं- घर बैठे ट्वीट कर रहे है: योगी
  • भारतीय छात्रा की तस्वीर से छेड़छाड़ कर पोस्ट भेजने के मामले में 'पाकिस्तान डिफेंस' का वेरिफ़ाइड अकाउंट सस्पेंड
  • गोवा: आज से शुरू हो रहा है 48वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

बड़ा झटका: ब्रिटेन सरकार ने मारी लात- कंगाल हो गया दाऊद!

नई दिल्ली: अन्डर वर्ल्ड डॉन के नाम से मशहूर भारत के मोस्ट वांटेंड आतंकी दाऊद इब्राहिम को ब्रिटेन सरकार ने बड़ा झटका देते हुए करोड़ों की संपत्ति अपने कब्जे में लिया लिया है। ब्रिटेन सरकार के इस बड़े फैसले के पीछे भारत की मौजूदा मोदी सरकार की कुनीतिक असर बताया जा रहा है। बता दें कि ब्रिटेन सरकार के इस फैसले के बाद दाऊद की करीब 45 हजार करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई है।

आपको बता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से बताया जाता है कि दाऊद फिलहाल पाकिस्तान में रह रहा है, इसके अलावा भारत सरकार की ओर से भी ऐसे संदेश कई बार दिए गए हैं, जिसमें दाऊद के पाकिस्तान में होने की बात कहीं गई है। बता दें कि इससे पहले भारत से बेहत कुनीतिक को आधार बनाते हुए यूएई सरकार ने भी दाऊद की संपत्तियों को अपने कब्जे में लिया था। इसके बाद पिछले दिनों ब्रिटेन की सरकार ने आर्थिक पाबंदियों की अपनी लिस्ट में दाऊद इब्राहिम की करोड़ों की संपत्तियों को शामिल किया था।

iPhone 8, X की लॉन्चिंग के बाद धड़ाम से गिरा Apple शेयर- चैथी बार हुआ ऐसा

बता दें कि पिछले महीने अगस्त में ब्रिटेन सरकार के ट्रेजररी विभाग ने एक लिस्ट जारी किया था, जिसमें दाऊद के तीन ठिकाने और 21 उपनामों का जिक्र किया गया है। यानी दाऊद ने 21 नाम बदलकर संपत्तियां खरीदी। इस लिस्ट के अनुसार दाऊद के पाकिस्तान में तीन पते हैं, ब्रिटेन सरकार के इस फैसले को अगर चंद शब्दों में समाझा जाए तो यह है कि सरकार के इस कदम के बाद अब लंदन में दाऊद ने जो करोड़ों के होटल, मॉल और घर खरीदे थे वो उसके नहीं रहे, उस पर सरकार का कब्जा है।

क्या थे और क्या बन गए- आतंकियों के चंगुल से लौट आए फादर टॉम!

सरकार के इस फैसले के बाद लंदन के हर्बर्ट रोड पर दाऊद की 35 करोड़ की संपत्ति, स्पिटल स्ट्रीट पर दाऊद 45 कमरों वाला आलीशान होटल, रोहैम्पटन में दाऊद इब्राहिम की कॉमर्शियल बिल्डिंग, लंदन के ही जॉन्सवुड रोड पर दाऊद का एक बड़ा मकान, इसके अलावा शेफडर्स बुश, रोमफोर्ड क्रोयदो में होटल और संपत्तियों पर गहरा असर होगा, या ये कहें कि ये सब अब दाऊद का नहीं रहा।

loading...