Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • रूसी तट के पास गैस से भरे 2 पोत में आग लगने से 11 की मौत, 15 भारतीय भी थे सवार
  • जम्मू-कश्मीर: भारी बर्फबारी के बीच सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट, 24 घंटे में 5 आतंकी ढेर
  • वाराणसी: 15वे प्रवासी सम्मेलन में पीएम मोदी, लोग पहले कहते थे कि भारत बदल नहीं सकता. हमने इस सोच को ही बदल डाला
  • नेपाल ने लगाया 2000, 500 और 200 रुपए के भारतीय नोटों पर बैन

इस बच्चे के साथ हुआ कुदरत का करिश्मा, लेकिन 21 की मौत!

मॉस्को: नववर्ष की पूर्व संध्या  रूस की एक गगनचुंबी इमारत में हुए धमाके में मरने वालों की संख्या अब 21 तक पहुंच गई है। मरने वालों में कुछ बच्चे भी शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उरल पहाड़ियों में स्थित मैगनितोगोर्स्क शहर के आवासीय परिसर में विस्फोट के बाद आग लग गई।

बताया जाता है कि घटना के दौरान दस मंजिला इमरात ढह गई। रूस की आपातकालीन मंत्रालय के हवाले से बताया जाता है कि अब तक जो शव बाहर निकाले गए उनमें तीन साल की एक बच्ची का शव भी शामिल है। वहीं घटना के 36 घंटे बाद मलबे से जिंदा निकाले गए एक 11 महीने के बच्चे की हालत स्थिर बनी हुई है।

इस बच्चे को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा भेजे गए एक विमान से राजधानी मॉस्को लाया गया, जहां उसका इलाज जारी है। स्वास्थ्य मंत्री वेरोनिका स्कवोर्तसोवा के अनुसार, बच्चे के सिर में चोट लगी है लेकिन मस्तिष्क को नुकसान नहीं पहुंचा है। वहीं अधिकारियों ने कहा कि इमारत में रहने वाले 20 लोग लापता हैं जिनमें पांच बच्चे भी शामिल हैं।

बताया जाता है कि संबंधि क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। यहां शून्य से करीब 20 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान है, लेकिन इसके बाद भी बचाव कार्य जारी है। बचावकर्मी मलबे से शवों को बाहर निकाल रहे हैं।

loading...