Breaking News
  • गुजरात: 44 बिल्डर्स और फाइनेंसरों के कई ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे
  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की वार्षिक समीक्षा बैठक में वित्त मंत्री, कर्ज देने की प्रक्रिया को ईमानदार बनाएं बैंक
  • उत्तर भारत में मौसम का कहर जारी, हिमाचल में 3 की मौत, बादल फटने से मची तबाही
  • भारत-पाक विदेश मंत्रियों की वार्ता रद्द होने के बाद सार्क बैठक पर संकट

हिमाचल: भूस्खलन में ढहा मनाली-लेह मार्ग, फंसे सैकड़ों पर्यटक!

शिमला: हिमाचल प्रदेश के मनाली घूमने गये पर्यटकों की जान मुसीबत में आ गयी है! दरअसल यहाँ भारी बारिश के बाद मनाली-लेह मार्ग पर बड़ा भूस्खलन हुआ है। जिससे आवाजाही रुक गयी और सैकड़ों पर्यटक फंस गये हैं।  

   

बतादें कि शुक्रवार सुबह को भारी बारिश के बाद मनाली-लेह हाइवे पर लैंडस्लाइड हुआ। भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के कारण रोड ब्लॉक हो गये हैं। जिससे आने जाने वाले टूरिस्टों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीँ लगातार भारी से भूस्खलन का खतरा भी बढ़ता जा रहा है। ऐसे में जहाँ तहां फंसे हुए लोगों को रेस्क्यू करने का विचार किया जा रहा है। स्थानीय मीडिया के अनुसार, भूस्खलन के कारण वाहनों की आवाजाही बंद हो गई है, जिसके कारण काफी लंबा जाम लग रहा है। वहीँ जिन स्थानों पर जाम लगा हुआ है। वहां भी बारिश के बाद भूस्खलन का बड़ा खतरा छाया हुआ है। भारी बारिश के कारण नदियां भी उफान पर हैं।

किम जोंग उन ने कारण टूटी भारत-अमेरिका के बीच टू प्लस टू वार्ता

सीएम रुपाणी ने इजरायल से की येहुदियों के लिए बड़ी घोषणा, दंग रह गये पीएम नेतान्याहू

 

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। 48 घंटे तक बारिश बंद होने के आसार नहीं है। ऐसे में पिकनिक मनाने गये लोगों की जान पर बन आई है। मालूम हो कि मनाली-कुल्लू में देश विदेश के सैलानी सुन्दरता मौसम का मजा लेने के लिए आते रहते हैं, लेकिन यहाँ बारिश के बाद हालत खराब हो जाते हैं। बारिश के कारण पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन से रोड जाम हो जाते हैं। वहीँ दूसरी और हिमाचल की सीमा से सटे जम्मू कश्मीर में भी बारिश अमरनाथ यात्रिओं के लिए मुसीबत बनी हुई है। बुधवार से शुरू हुई अमरनाथ यात्रा का अभी तक पहला दस्ता ही बाबा बर्फानी के दर्शन कर सका है, यहाँ बारिश के कारण दुसरे दस्ते को रास्ते में ही बने कैंप में रोक दिया गया है। बारिश के कारण भूस्खलन जैसी घटनाओं की संभावना के चलते यह कदम उठाया गया है।    

यह भी देखें-

 

loading...