Breaking News
  • मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव गिरा, सरकार के पक्ष में 325 जबकि विपक्ष में पड़े 126 वोट
  • लंदन: महिला हॉकी विश्व कप के आगाजी मुकाबले में इंग्लैंड से भिड़ेगी भारतीय टीम
  • पुणे: 3 करोड़ के पुराने नोट जब्त, गिरफ्तार किए गए 5 लोगों में कांग्रेस पार्षद शामिल
  • मॉब लिंचिंग: अलवर में गोरक्षा के नाम पर अकबर नाम के शख्स की पीट-पीटकर हत्या

अगर शिमला घूमने की कर रहे हो तैयारी: तो जान लो यह बुरी खबर!

शिमला: अगर आप भी गर्मी की छुट्टी मनाने के लिए हिमाचल प्रदेश जाने की सोच रहे हो तो यह शायद यह खबर आपका मूड ही बदल दे। क्योंकि जो लोग अभी शिमला घूमने किए लिए गये हैं वह खुद बुरी मुसीबत में फंस चुके हैं।

दरअसल पूरा मामला यह है कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली-एनसीआर, राजस्थान के बाद अब धूल का कहर हिमाचल प्रदेश तक पहुँच गया है। मीडिया में जारी खबरों की माने तो आसमान में छाई धूल के कारण पर्यटकों को परेशानी उठानी पड़ रही है। यहाँ धूलभरी आंधी के चलते इलाके में विजिबिलिटी घटकर 200 मीटर तक रह गई थी। आसमान में छाई धूल के कारण सांस लेने में भी दिक्कत हो हो रही है। पर्यटक होटलों के कमरे से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। ऐसे में उनकी टूर की तो बैंड बज गयी है। भला अब यह जानकारी मिलने के बाद शायद आपने भी शिमला टूर का प्लान कैंसिल ही कर दिया होगा। शिमला के साथ सतह चंडीगढ़ में आसमानी धूल के कहर के चलते पिछले तीन दिनों से उड़ान सेवाएँ तक प्रभावित हो रही हैं। शुक्रवार को 26 उड़ाने रद्द की गयी थीं।

बदल गया यात्रा नियम: अब एक ही बैग ले जाकर कर सकेंगे यात्रा

वहीँ गुरुवार को तो सुबह से उड़ान सेवाएँ प्रभावित रहीं। चंडीगढ़-शिमला के साथ सतह दिल्ली एनसीआर में हालात बहुत ही खराब हैं। आसमान में छाई धूल के कारण जहाँ लोगों को सांस लेने में दिक्कत हो रही है। वहीँ लो विजिबिलिटी भी बड़ा कारण बनी हुई है। दिल्ली-एनसीआर की हवा लगातार जहरीली बनी हुई है। फिलहाल हवा की गुणवत्ता में थोड़ा सुधार आया है। शुक्रवार हो हवा चलने के साथ ही आसमान की धूल छटी है जिससे धुंध कम हुई है।

केजरीवाल के धरने को मिला इन सरकारों का समर्थन, मुश्किल में एलजी?

दिल्ली हाईकोर्ट की फटकार के बाद तीनों एमसीडी ने दिल्ली में पानी का छिड़काव किया। जिससे धूल कम उठी और लोगों ने राहत महसूस की। पानी छिड़काव के बाद हवा के साथ उड़ने वाली धूल में कमी आ गयी है और आसमान में धूल का गुबार भी कम ही बन रहा है। जिससे शनिवार को हवा में सुधर नजर आया है। हालाँकि जब तक बारिश नहीं होती है तब तक आसमान में छाया धूल का गुबार खत्म नहीं होगा।

यह भी देखें-

loading...