Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • होली के पावन पर्व पर पीएम मोदी और राष्ट्रपति कोविंद ने सभी देशवासियों को दी शुभकामनाएं
  • भारत पर कोई और आतंकी हमला हुआ तो फिर इस्लामाबाद के लिए हो जाएगी ‘बहुत मुश्किल’
  • भाजपा के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र इस बार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव
  • जम्मू के सोपोर इलाके में सुरक्षाकर्मियों और आंतकियों के बीच मुठभेड़

हिमाचल पर मेहरबान मोदी सरकार, इस काम के लिए मंजूर किये अरबों रूपये

शिमला: हिमाचल प्रदेश के विअकास के केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने वित्तीय सहायता को मंजूरी दी है। जिससे राज्य के पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा दिया जा सके। हिमाचल प्रदेश भारत के उन गिने चुने पर्यटन क्षेत्रों में आता है जिन्हें उँगलियों पर गिना जाता है।

बतादें कि राज्य की जयराम ठाकुर सरकार को केंद्र सरकार से पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 1900 करोड़ रूपये वित्तीय सहायता मिली है। केंद्र की मदद के बाद राज्य के सीएम जयराम ठाकुर ने बताया कि केंद्रीय वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामले विभाग ने एशियन विकास बैंक द्वारा वित्त पोषित लगभग 1900 करोड़ रुपये की पर्यटन अधोसंरचना विकास परियोजना को स्वीकृति प्रदान की है। जिससे राज्य के पर्यटन क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए विकास किया जा सके।

तो क्या पढ़ाते वक्त भी शराब के नशे में रहते हैं गुजराती शिक्षक?

राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं लेकिन कई क्षेत्रों में बदहाली के कारण पर्यटन की संभावना चौपट हो जाती है। लेकिन अब केंद्र से मदद के बाद राज्य सरकार भी हिमाचल प्रदेश के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में पर्यटन की अधोसंरचना को विकसित करेगी। सीएम ठाकुर ने कहा कि केंद्र की वित्तीय सहायता से राज्य के पर्यटन क्षेत्रों जो कमी है उसे पूरा किया जाएगा। जिससे पर्यटकों को लुभाया जा सके साथ ही राज्य में आने वाले पर्यटकों को बेहतर माहौल दिया जा सके।

BJP-RSS की बंद कमरे में चल रही है सीक्रेट मीटिंग, मीडिया तक को नहीं परमिश

इसके साथ ही सीएम ने युवाओं के लिए रोजगार सृजन के लिए भी जोर देने के बात कही है। उन्होंने कहा कि राज्य में सरकार रोजगार के जल्द ही अवसर ला रही है। मालूम हो कि हिमाचल प्रदेश को पर्यटन राज्य के रूप में जाना जाता है, गर्मी के दिनों में कुल्लू-मनाली जैसे क्षेत्रों में बड़ी संख्या में सैलानी जाते हैं। लेकिन कुछ क्षेत्रों में अव्यवस्थाओं के चलते पर्यटन प्रभावित हो रहा है, जिससे राज्य और सरकार दोनों को नुकसान उठाना पड़ता है।    

यह भी देखें-

loading...