Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के एक दिवसीय यात्रा पर
  • अमेरिका का दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त सैन्याभ्यास रद्द
  • जम्मू-कश्मीर: सेना ने 22 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की
  • JK: PDP के साथ गठबंधन टूटने के बाद श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर BJP की रैली

इस भयंकर परेशानी से बचे रह सकते हैं मासूम बच्चे, माताएं जरूर करें ऐसा

नई दिल्ली: जन्म के साथ ही मां का दूध पीना फायदेमंद होता है, वैसे तो ये बात सभी लोगों को पता होता है, हालांकि इसके बाद भी कुछ माताएं अपने बच्चे को अपने स्तन का दूध न पिला कर बाजार से डब्बे का दूघ पिलाती हैं। लेकिन आज आप को बचपन में मां के दूध पीना बच्चों के लिए कितना फायदेमंद होता है।

\

source

दरअसल इस विषय पर हाल ही में आए एक शोध के हवाले से बताया जाता है कि बचपन में मां के दूध में मिलने वाली शर्करा बच्चों को भविष्य में होने वाली एलर्जी से बचाने में मददगार साबित होता है। शोधकर्ताओं के अनुसार मां के दूध में मिलने वाले शर्करा का लाभ भले ही बचपन में बच्चों को या उनके माताओं को न दिखे लेकिन भविष्य में रोग से लड़ने के लिए यह काफी मदद करता है।

टेस्ट में T20 की तरह खेला यह इंडियन, अफगानिस्तान के खिलाफा पहले ही दिन किया कारनामा!

मां के दूध में ओलिगोसैकराइड्स HMO पाया जाता है जिसकी संरचनात्मक में शर्करा के अणु होते हैं। यह मां के दूध में पाए जाने वाले लेक्टोज और वसा के बाद तीसरा सबसे बड़ा ठोस घटक बताया जाता है। बताया जाता है कि बच्चे इसे पचा नहीं पाते हैं लेकिन लेकिन उनके आंत में ये माइक्रोबायोटा के विकास में प्रिबॉयोटिक के तौर पर काम करते हैं।

टीम इंडिया में 8 साल बाद हुई इस दिग्गज खिलाड़ी की वापसी

जानकारों का मानना है कि माइक्रोबायोटा एलर्जी की बीमारी पर असर डालता है। बता दें कि इस शोध का प्रकाशन जर्नल 'एलर्जी' में किया गया है। शोध में एक साल की उम्र होने के बाद बच्चे की त्वचा की जांच की गई है, जिसमें शोधकर्ताओं ने पाया कि मां का दूध पीने वाले बच्चे खाद्य पदार्थ की एलर्जी के प्रति संवेदनशीलता नहीं दिखाई।

जवानों की शहादत के बीच भारत-पाकिस्तान ने किया एक और बड़ा समौता, फिर पीठ में खंजर घोपेगा PAK

आपको बता दें कि एलर्जी की बीमारी जवान लोगों को भी काफी परेशान करती है, ऐसे में अगर किसी बच्चों को एलर्जी की परेशानी बालपन में हो गई तो जरा सोचिए उसे कितनी परेशानी होती होगी। वहीं मां के दूध बच्चे को अन्य कई तरह के फायदे भी देते हैं कि इसलिए माताएं कभी भी अपने बच्चे को बचपन में अपना दूध पिलाने से परहेज न करें।

loading...