Breaking News
  • भागलपुर: सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी मामले की CBI जांच, सीएम ने दिया निर्देश
  • आयकर विभाग ने लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति को पूछताछ के लिए बुलाया
  • उत्तर प्रदेश: 7,500 किसानों को सौंपा गया कर्ज माफी प्रमाण पत्र
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 की मौत, 2 संदिग्ध गिरफ्तार
  • तमिलनाडु: पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता की मौत की जांच के आदेश
  • जम्मू-कश्मीर: आतंकी फंडिंग के मामले में व्यापारी ज़हूर वताली गिरफ्तार

प्रसून जोशी के हाथों में सेंसर की कैंची, पहलाज निहलाणी को मिली सजा!

मुंबई: सेंट्रल बोर्ड आफ फिल्म सर्टिफिकेशन यानी की सीबीएफसी के प्रमुख पद से पहलाज निहलाणी को आखिर कर बर्खास्त ही करना पड़ा। निहलाणी के बर्खास्त किए जाने के बाद अब सेंसर बोर्ड की कमान प्रख्यात गीतकार एवं एड गुरु प्रसून जोशी के हाथों में सौंप दी गई है।

पहलाज निहलाणी और प्रसून जोशी

बता दें कि फिल्मों के सीन काटने के साथ-साथ अन्य कई मसलों पर पहलाज निहलाणी पिछले कुछ ही दिनों में काफा विवदों को खड़ा कर दिया था। निहलाणी के इस रवैये से फिल्म जगत की हस्तियों को खासा परेसानी हो रही था, इस पर कई बड़े कलाकारों ने अपनी नाराजगी पहेल ही जता चुके हैं।

सेंसर बोर्ड के सदस्य बनाए गए विवेक अग्निहोत्री ने इसकी जानकारी मीडिया को दी है, बोर्ड के इस फैसले को लेकर बॉलीवुड ने भी सार्थक प्रतिक्रिया दी है। आपको बता दें कि यह संस्ता सरकार की देखरेख में होती है, जिसका काम होता है कि किसी भी फिल्म के रिलीज होने पहसे उसकी जांच-पड़ताल की जाती है।

आपको बता दें कि बोर्ड के नए अध्यक्ष प्रसून जोशी ने कई बेहतरीन फिल्मों में अपना योगदान देने के साथ-साथ वह केंद्र की मौजूदा मोदी सरकार के भी करीबी माने जाते है, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान का 'थीम सांग' तायार किया था, तब उनकी चर्चा जोरो पर थी। इनके योगदान को देखते हुए इन्हें पद्मश्री सम्मान के साथ-साथ राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

loading...

Subscribe to our Channel