Breaking News
  • MSG कंपनी के सीईओ सीपी अरोड़ा गिरफ्तार, हनीप्रीत को फरार करने का आरोप
  • नोटबंदी की बदौलत 2 लाख से ज्यादा फ़र्ज़ी कंपनियां हुई बंद: पीएम
  • राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस के अवसर पर अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान का लोकार्पण
  • स्पेन,पुर्तगाल में लगी आग से 35 लोग मारे गए, स्थिति अभी भी भयावह

सीताराम पांचाल की मौत का जिम्मेदार है बॉलीवुड ?

जींद: बैंडिट क्वीन, पान सिंह तोमर, पीपली लाइव जैसे फिल्मों में काम कर चुके अभिनेता सीताराम पांचाल का निधन हो गया, पांचाल पिछले चार सालों से कैंसर से पीड़ित चल रहे, जिसका इलाज मुंबई में जारी था, लेकिन उनकी मौत 52 साल के उम्र में हो गई। बता दें कि इलाज में सीताराम पांचाल की सारी जमा पूजी खत्म हो गई थी, जिसके बाद उनके इलाजा के लिए सोशल मीडिया पर मुहीम चाल कर पैसे जुटाए गए थे।

अभिनेता पंचलाल हरियाणा के जींद जिले के रहने वाले थे, जिले के नरवाना कस्बे से बालीवुड में अपनी पहचान बनने के लिए पांचाल ने काफी संघर्ष किया और अपने आप को उस क्रम में जगह दिलाई जहां कुछ खास कलाकारों को ही जगह मिल सका है। पंचलाल ने सबसे पहले मुंबई में ‘‘बैंडिट क्वीन’’ फिल्म में काम किया। यह फिल्म एक खास किस्म की फिल्म है और इसके लगभग सभी कलाकारों की भूमिका भी खास रही है।

इसके अलाव अभिनेता पंचलाल ने स्लमडॉग मिलियनर, द लीजेंड ऑफ भगत सिंह, जॉली एलएलबी, सारे जहां से महंगा, हल्ला बोल के साथ-साथ धारावाहिकों में भी अपना अभिनय दिया। पंचलाल का बचपन बेहद ही गरीबी हालत में गुजरा। बताया जाता है कि सीताराम पांचाल के पिता श्रीराम पांचाल नरवाना में चाय की दुकान चलाते थे।

अपने चार भाईयों में पंचलाल तीसरे नंबर के थे, उन्होंने नरवाना से 12वीं की पढ़ाई करने के बाद कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन में दाखिला लिया और वहीं से  ड्रामा, थियेटर की शुरूआत कर दी। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से डिग्री लेने के बाद उन्होंने यहां कुछ दिनों तक पढ़ाने का काम भी किया। लेकिन इसी दौरान उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी और मुंबई चले गए और अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की।

आपकाa बता दें कि उनकी मौत जिगर के कैंसर के कराण हुई है, यह समस्या पंचलाल के साथ 4 सालों से चली आ रही थी। इलाज के बावजूद उनकी हालत तेजी से बिगड़ती जा रही थी, खबार सेहत के कारण फिल्मों काम मिलना भी बंद हो चुका था, घर में अकेले कमाने वाले पंचलाल की सारी जमा पूंजी इलाज में खर्ज हो गई।

इसके बाद पंचलाल ने सोशल मीडिया पर मदद की गुहार लगाई, लोगो ने कैंपियन चला कर उनकी मदद की, इसकी जानकारी मिलते ही हिरयाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने पांच लाख रुपये की मदद दी, इस दौरान उनकी हालत बेहतर हो गई और उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई थी, लेकिन इसके बाद बीते दो दिन पहले उनकी हालत फिर से खराब हुए जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उनका निधन हो गया।

पंचलाल के एक बेटे की मौत हो चुकी है, जबकि दूसरा बेटा अपनी मां के साथ मुंबई में ही रहते हैं। अभिनेता के मौत से बॉलीवुड में शोक की लहर हैं।

लेकिन यहां सोचने वाली बात है कि क्या बॉलीवुड में सभी कलाकारों के पैसे खत्म हो चुके थे ? फिल्म इंडस्ट्री में जितने कलाकार है अगर थोड़-थोड़ी भी मदद की होती तो पंचलाल को कम से कम पैसों की कमी तो महसूस नहीं होता, क्योंकि “मौत तो सभी को आनी है, आज मेरी बारी है तो कल तेरी बारी है”!

loading...