Breaking News
  • युद्ध अपराधों के खिलाफ अभियान नहीं रोक सकता पाकिस्तान: WBO
  • विरोधी पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुके हैं- घर बैठे ट्वीट कर रहे है: योगी
  • भारतीय छात्रा की तस्वीर से छेड़छाड़ कर पोस्ट भेजने के मामले में 'पाकिस्तान डिफेंस' का वेरिफ़ाइड अकाउंट सस्पेंड
  • गोवा: आज से शुरू हो रहा है 48वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

जरूर पढ़ें: क्यों और कब से मनाते हैं हिंदी दिवस- इन बातों को नहीं जानते होंगे आप

नई दिल्ली: भारत में हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है। इस दिन देश भर में कई स्कूलों में हिंदी को बढ़ावा देने के लिए कार्यकर्म का आयोजन भी किया जाता है। इसके अलावा 10 जनवरी को भी विश्‍व हिंदी दिवस मनाया जाता है। आपको बता दें कि भारत के संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को यह निर्णय लिया था कि हिंदी भारत की राजभाषा होगी। इसी महत्वपूर्ण निर्णय के बाद सन् 1953 से पूरे भारत में 14 सितंबर को हर साल हिंदी दिवस के रूप में मनाने का फैसला हुआ।

internet image

हिंदी दिवस को हिंदी पखवाड़ा के नाम से 14 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक मनाया जाता है। हर दिन अलग-अलग प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। विश्‍व हिंदी दिवस 10 जनवरी को मनाया जाता है और इसकी शुरुआत महाराष्‍ट्र के नागपुर से 1975 में हुई थी। वर्ष 2006 में इसे आधिकारिक दर्जा और नई पहचान मिली थी।

पीएम मोदी ने मस्जिद जाकर कर दी यह बड़ी गलती!

हिंदी भाषा भारत में सबसे ज़्यादा बोली जाने वाली भाषा है। भारत में 77% लोग हिंदी में ही लिखते, पढ़ते, बोलते और समझते हैं और भारत में हिंदी ही सबसे बड़े  कामकाज का हिस्‍सा है। हिंदी शब्‍द मूल रूप से फारसी से जन्मा है, यह सिंधी सभ्‍यता से आए शब्‍द सिंध का अंश है जो कालांतर में हिंद हो गया।

Horror के नाम पर पर हॉटनेस: जाने किसका है यह जलवा!

जानकारी के अनुसार मीर खुसरो सबसे पहले व्‍यक्ति थे, जिन्‍होंने हिंदी में कविता लिखी थी। हिंदी भाषा के इतिहास पर आधारित काव्‍य रचना सबसे पहले एक फ्रांस के लेखक ने की थी। इस रचना का नाम‍ था 'ग्रासिन द तैसी'। एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका की 45 यूनिवर्सिटी सहित विश्‍व के करीब 175 विश्‍वविद्यालय ऐसे हैं जहां पर हिंदी में पढ़ाई की जाती है।

internet image

हिंदी भाषा पूरे विश्व में बोली जाने वाली भाषाओं में चौथे स्थान पर है। हिंदी भाषा पर अंग्रेजी भाषा के शब्दों का भी बहुत अधिक प्रभाव हुआ है। अंग्रेजी भाषा ने हिंदी के कई शब्दों की जगह ले ली है। लेकिन फिर भी हिंदी भाषा पूरे विश्व में बोली जाने वाली भाषाओं में चौथा स्थान रखती है।

यहां देखिए!

loading...