Breaking News
  • नये ट्रैफिक नियमों में बढ़े हुए जुर्माने के खिलाफ हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स
  • यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने किया है हड़ताल का आहवाहन
  • महाराष्ट्र दौरे पर पीएम मोदी, नासिक से करेंगे चुनाव प्रचार अभियान का आगाज
  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से जीता भारत

पद्म पुरस्कार के बारे में कितना जानते हैं? इस साल इन 112 लोगों को मिला

नई दिल्ली: जब किसी भारतीय नागरिक को पद्म पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है तो ये शायद उनके जीवन के सबसे बेहतरीन पलों में से एक होता है। हालांकि इसके बाद भी कई लोग कई कारण से अपने आप को सम्मानित, गौरवानवित कराने वाले सम्मान के बीच विवादों को हवा दे देते हैं।

हालांकि सम्मान लेना या न लेना उन पर निर्भर करता है, जिन्हें सम्मान मिला है। लेकिन इस साल भी पद्म पुरस्कारों के ऐलान के साथ ही विवादों की खबर आई। दरअसल, गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार की ओर से 112 सम्मानित लोगों के नाम का ऐलान किया गया है, जिन्हें पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा।

आपको बता दें कि पद्म पुरस्कार भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक हैं। या सम्मान/पुरस्कार, विभिन्न क्षेत्रों (कला, समाज सेवा, लोक-कार्य, विज्ञान और इंजीनियरी, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल-कूद, सिविल सेवा इत्यादि) के क्षेत्र में उनके योगदानों के लिए प्रदान किया जाता है।

पद्म पुरस्कार तीन वर्गों में दिए जाते हैं (पद्म विभूषण, पद्म भूषण, पद्म श्री)

पद्म विभूषण उन्हें मिलता है जिनके योगदान असाधारण और विशिष्ट होते हैं

पद्म भूषण  उत्कृष्ट कोटि की विशिष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है

पद्म श्री किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवाओं के लिए दिया जाता है

समान्यत: हर साल पद्म पुरस्कार विजेताओं का ऐलान गणतंत्र दिवस के अवसर पर होता रहा है। जबकि मार्च-अप्रैल माहीने में राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह के दौरान विजेताओं या उनके परिजनों को भारत के राष्ट्रपति सम्मान से नवाजते हैं।

वैसे इस सम्मान पर योग्य लोगों का ही अधिकार है, लेकिन कई बार राजनीतिक कारणों के इनमें 'हेराफेरी' और अन्य कई प्रकार के आरोप लगते रहे हैं। 

पद्म पुरस्कार विजेताओं की पूरी लिस्ट के साथ जानिए, ओडिशा CM पटनायक की बहन ने क्यों किया इनकार

loading...