Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहुंचे राहुल गांधी
  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार
  • मां से आशीर्वाद लेने के लिए कल गुजरात जाएंगे मोदी
  • सूरत अग्निकांड में अब तक 21 की मौत, 3 के खिलाफ FIR दर्ज
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

मेडिकल कॉलेज में 100 बच्चों के साथ रैगिंग का खुलास, जारी हुआ नोटिस

नई दिल्ली: कानून तौर पर देश के किसी भी कॉलेज या स्कूल में छात्र या छात्राओं के साथ रैगिंग नहीं किया जा सकता है। लेकिन इसके बाद भी कानून को ताक पर रखते हुए जब-कभी देश के अलग-अलग हिस्सों से रैगिंग के मामले आते हैं। इस बीच नाया मामला इलाहाबाद के मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज से जुड़ा है।

दरअसल, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग यानी एनएचआरसी ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय और  उत्तर प्रदेश सरकार के साथ कॉलेज के प्रिंसिपल को नोटिस जारी कर रिपोर्ट तलब किया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कॉलेज में करीब 100 छात्रों से रैगिंग के मामले में नोटिस जारी किया है।

कर्नाटक में हो रहा है चुनाव, कड़ी सुरक्षा को बीच वोटिंग जारी

बताया जाता है कि एमबीबीएस पाठ्यक्रम के लिए पहले साल में करीब 150 छात्रों का दाखिला हुआ, जिनमें से 40 छात्राएं हैं। आरोप है कि छात्रों ने कथित तौर पर रैगिंग के खिलाफ आवाज उठाई तो उनकी पिटाई की गई। जिसके बाद मीडिया में छपरी खबर को आधार बनाकर एनएचआरसी शिक्षा मंत्रालय समेत अन्य से रिपोर्ट तलब किया है।

हाई अलर्ट: आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के 9 रिश्तेदारों को किया अगवा

सरकारी विभागों को नोटिस जारी करते हुए एनएचआरसी ने दोषी छात्रों और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई औ छात्रों की सुरक्षा के लिए की गई पहल के बारे में जाकारी मांगी है। एनएचआरसी के अनुसार मामले में चार हफ्ते में विस्तृत रिपोर्ट दिया जाए। एक रिपोर्ट के अनुसार, कॉलेज के जुनियर छात्रों के शिर मुंडवा दिए गए हैं, जबकि छात्राओं के लिए फर्मान जारी किया गया है कि वे बालों में तेल और जूड़ा बांध कर ही कॉलेज आएं।

अभी-अभी: रेलवे टेंडर घोटाला मामले में लालू परिवार के लिए आई बड़ी खुशखबरी

loading...