Breaking News
  • युद्ध अपराधों के खिलाफ अभियान नहीं रोक सकता पाकिस्तान: WBO
  • विरोधी पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुके हैं- घर बैठे ट्वीट कर रहे है: योगी
  • भारतीय छात्रा की तस्वीर से छेड़छाड़ कर पोस्ट भेजने के मामले में 'पाकिस्तान डिफेंस' का वेरिफ़ाइड अकाउंट सस्पेंड
  • गोवा: आज से शुरू हो रहा है 48वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव

नरेन्द्र मोदी सरकार 80 लाख बच्चों को भेज रही...

नई दिल्ली: केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार अभी तक न जाने कितने अभियान चला चुकी है, जिसमें स्वच्छता अभियान, जागरूकता अभियान जैसे न जाने कितने ही अभियान शामिल हैं। वहीँ केंद्र सराकर एकबार फिर से एक और अभियान चलाने जा रही है। जिसका नाम है स्कूल चलो अभियान।

बतादें कि HRD मिनिस्टर प्रकाश जावडेकर ने शुक्रवार को विश्व साक्षरता दिवस पर सरकार के बड़े एजेंडे का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि भारत सरकार अगले वर्ष से देशभर में स्कूल चलो अभियान की शुरुआता करने जा रही है। यह अभियान उन 70 से 80 बच्चों के लिए होगा जो तमाम कारणों बस स्कूल नहीं जा पाते हैं। शुक्रवार को HRD मिनिस्टर जावड़ेकर ने बताया कि भारत में अभी भी करीब 70से 80 लाख बच्चे हैसे हैं जो जो स्कूल नहीं जा रहे हैं।

इन बच्चों के लिए सरकार 'स्कूल चलो अभियान'  शुरू करने जा रहा है। इसमें छात्रों का पंजीकरण कर उन्हें स्कूल भेजा जाएगा। जावेडकर ने कहा कि भारत सरकार सरकार साक्षरता पर बहुत ही जोर दे रही है। इसके साथ ही लगातार शिस्खा को बेहतर बनाने पर जोर दिया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि इस अभियान के तहत बच्चो को स्कूल भेजा जाएगा।

जिससे शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा बदलाव आने की सभावना है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद देश ने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत प्रगति की है, लेकिन आज भी देश के 80 लाख बच्चे स्कूल से दूर हैं।

YouTube ने कराई भजन गायिका का बलात्कार!

11 सितंबर को गली-गली में गूंजेगा पीएम मोदी का भाषण- जारी हुआ फरमान!

सरकार उनको स्कूल तक पहुंचाने के लिए ही यह कदम उठा रही है। इस दौरान प्रकाश जावेडकर ने कहा कि आज के दौर में सिर्फ पढ़ा-लिखा होना ही जरुरी नहीं है। आज डिजिटल ज्ञान भी होना आवश्यक है, मंत्री ने कहा कि अलेके ग्रामीण भारत में ही 70 करोड़ मोबाइल हैं, यह इसबात का सबूत है कि भारतीय डिजिटल क्षेत्र में लगातार आगे बढ़ रहे हैं।       

यह भी देखें-

 

loading...