Breaking News
  • वडोदरा के एक प्लांट में आग लगने से 3 की मौत
  • काबुल स्थित एक होटल में हुए आतंकी हमले में कम से कम पांच लोगों के मारे जाने की ख़बर
  • जम्मू-कश्मीर के मेंढर में पाक द्वारा गोलीबारी में एक जवान शहीद
  • झारखंड के दुमका में सड़क हादसा- 8 की मौत
  • दिल्ली के बवाना में भयंकर आग-17 की मौत

यहां देखिए आखिर क्यों सेना में कुत्तों को मौत के घाट उतार दिया जाता है।

NEW DELHI:- दोस्तों आखिर क्यों भारतीय सेना में कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद गोली मार दी जाती है। बहुत ही कम लोगों को इस बारे में पता है।

ये है बॉलीवुड के खतरनाक VILLAINS, बेटे करते है ऐसा काम...

दोस्तों जानवरों में वफादारी में कुत्तों का नंबर सबसे पहले आता है, क्योंकि कुत्ता इंसान का सबसे बड़ा वफदार माना जाता है, जो उसे हर मुसीबत में बचाता है। जी हां भारतीय सेना में कुत्तों की भी कुछ ऐसी भूमिका रहती है। सेना को समर्पित होते है, ये कुत्ते। और ये सच है कि जो भी कुत्ते सेना में काम करते है उन्हें रिटायरमेंट के बाद गोली मार दी जाती है।

ऐसा सुनकर आपको आजीब लग सकता है, लेकिन इसके पीछे कई कारण होते है। अब सवाल ये उठता है कि इतना वफदार होने के बावजूद भी कुत्तों को क्यों गोली मार दी जाती है। ये बात कभी भी किसी के सामने नहीं आती लेकिन एक शख्स ने सेना में RTI डालकर उनसे ये पूछा कि आखिर क्यों रिटायरमेंट के बाद आप उन्हें गोली मार देते है।

स्विमिंग पूल में ये करते वायरल हुई ये अभिनेत्री, आपने देखा क्या!

सेना ने पलट कर जवाब दिया कि इसके पीछ कुछ सिक्युरिटी रीजन है। आर्मी के अनुसार, रिटायरमेंट के बाद कुत्ता किसी ऐसे व्यक्ती को ना मिल जाए, जिससे देश को हानी हो, क्योंकि कुत्ते को आर्मी के हर उऩ गुप्त स्थानों के बारे में पता होते है, जो उसे ट्रेनिंग के दौरान बताए जाते है।

आर्मी ने ये भी बताया कि अगर कुत्ते का स्वास्थ्य ठीक नहीं होता है, तो उसका चेकअप भी करवाया जाता है।यदि इलाज के दौरान एक महिने तक कुत्ते की हालत में कोई सुधार नहीं होता है तब भी उसे मार दिया जाता है।       

28 साल छोटी लड़की से शादी करने वाला है यह 52 साल का एक्टर!

loading...