Breaking News
  • तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख के.चंद्रशेखर राव दूसरी बार बने मुख्यमंत्री
  • बीजेपी की संसदीय दल की बैठक, पीएम मोदी भी शामिल
  • जम्मू-कश्मीरः सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच बारामुला में मुठभेड़, दो आतंकी ढेर
  • संसद पर हुए आतंकी हमले की 17वीं बरसी, शहीदों को दी जा रही है श्रद्धांजलि

फर्जीवाड़े में फंसे दिल्ली यूनिवर्सिटी का नवनिर्वाचित अध्यक्ष अंकिव बैसोया!

नई दिल्ली: इस साल दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव में कई तरह के विवाद सामने आए, वहीं अब चुनाव में जीत दर्ज करने वाले नवनिर्वाचित अध्यक्ष को लेकर भी एक बड़ा विवाद सामने आया है। बता दें चुनाव के दौरान ईवीएम विवाद की चर्चा बड़े स्तर पर चली, जिसके बाद अब अंकिव बैसोया के शैक्षणिक योग्यता पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

कांग्रेस पार्टी के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया यानी एनएसयूआई का आरोप बीजेपी की सहयोगी एबीवीपी छात्र नेता अंकिव बैसोया ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर नामांकन कराया है। लेकिन एबीवीपी ने तरह के आरोपों को इस इनकार करते हुए इसे एनएसयूआई का दुष्प्रचार कहा है।

VIDEO: पीएम मोदी के लिए 13 हजार फीट से कूद गई महिला, बताई अपनी इच्छा!

बता दें कि हाल ही में खत्म हुए चुनाव में एबीवीपी के अंकिव बैसोया ने अध्यक्ष पद पर जीत दर्ज की है। जबकि उपाध्यक्ष और संयुक्त सचिव पद भी एबीवीपी के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है। वहीं सचिव पद पर एनएसयूआई उम्मीदवार की जीत हुई है।

2 मिनट में जानिए, LTE और VoLTE में क्या अंतर है

जिसके बाद अब एनएसयूआई ने थिरुवल्लूर यूनिवर्सिटी का एक लैटर जारी करते हुए आरोप लगया और दावा किया गया कि अंकिव ने एमए में एडमिशन लेने के लिए बीए का जो सर्टिफिकेट दिया वो फर्जी है। बता दें कि ये मामला अभी और भी आगे बढ़ सकता है कि क्योंकि एनएसयूआई का कहना है क हम इस मामले में कानून राय भी ले रहे हैं।

12 साल की उम्र में सुसाइड करने की कोशिश कर चूका है ये मशहूर रैपर, खुद …

loading...