Breaking News
  • व्यापार विवाद- जब तक चीन रास्ता नहीं बदलता अमेरिका पीछे नहीं हटेगा: माइक पेंस
  • इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने शनिवार को मालदीव के सातवें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली, मोदी भी हुए शामिल
  • ICCWT20 के ग्रुप-बी मुकाबले में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 48 रन से हराया
  • राफेल डील पर मुझसे 15 मिनट बहस करें पीएम मोदी: राहुल गांधी

खुशखबरी: छात्रों को 80000 हजार तक मासिक स्कॉलरशिप देगी केंद्र सरकार, कैबिनेट से मिली मंजूरी

नई दिल्ली: केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने देश से प्रतिभा पलायन को रोकने के लिए इतिहास का सबसे बड़ा फैसला लिया है। सरकार उच्च शिक्षण संस्थानों के छात्रों को प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप के तहत छात्रों को 80000 हजार रुपये तक स्कॉलरशिप देने की योजना को मंजूरी दे दी है। शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक के बाद यह फैसला लिया लिया गया है।

बतादें कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने भारतीय इतिहास की सबसे बड़ी मासिक स्कॉलरशिप योजना पीएम रिसर्च फेलोशिप (पीएमआरएफ) को मंजूर किया है। इस योजना से देश के हजारों चुने हुए छात्रों को सरकार स्कालर्स के लिए 80000 हजार रुपये तक मासिक देगी। इसके साथ ही इंटरनैशनल कॉन्फ्रेंस और सेमिनार्स में रिसर्च पेपर्स पेश करने के लिए विदेश यात्रा खर्च के लिए सरकार छात्र को 2 लाख रुपये तक वार्षिक रिसर्च ग्रांट्स देगी।

अमेरिका में ‘ब्लैक फ्राइडे’, सरकारी कामकाज फिर ठप्प

बताया जा रहा है कि इस योजना में स्कॉलर्स को पहले दो साल तक 70,000 रुपये हर माह मिलेंगे, तीसरे साल 75,000 रुपये हर माह और चौथे व पांचवे साल 80,000 रुपये हर महीने दिया जाएगा। इसके लिए भारी भरकम 1650 करोड़ का बजट आवंटित किया गया है।

VIDEO: हवा में उड़ने वाली दुनिया की पहली टैक्सी- जरूरी नहीं है ड्राइवर…

केन्द्रीय मानव संसधान मंत्री प्रकाश जावडेकर ने योजना को लेकर बताया कि इस के तहत 1,000 सालाना स्कॉलरशिप के साथ साथ सरकार IIT और IISC में रिसर्च से जुड़ी सुविधाओं को भी अपग्रेड करेगा। इस योजना का लाभ के लिए न्यूनतम योग्यता 8.5 सीजीपीए अनिवार्य है। यह योजना IIT, IISER और NIT  अजिसे शिक्षण संस्थाओं के छात्रों के लिए है।
यह भी देखें-

loading...