Breaking News
  • निर्यातकों के लिए बड़ी सौगात, विदेशी मुद्रा में कर्ज़ उठाने की मिलेगी सुविधा
  • भारत और स्लोवेनिया के बीच निवेश, खेल, संस्कृति

बच्चे हो गए पास, अब मां की बारी!

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के लिए साल 2019 बेहद ही अहम है। ऐसा उन्होंने लोकसभा चुनाव और अपने बच्चों की 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा को लेकर कहा था। दरअसल, ईरानी लोकसभा चुनाव में एक बार फिर से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के  खिलाफ अमेठी से चुनावी मैदान में हैं। डबकि उनका बेटे ने 12 वीं और बेटी ने 10 वीं की परीक्षा दी थी।

ऐसे में 6 मई 2019 को सीबीएसी बोर्ड द्ववारा 10की परीक्षा का परिणाम जारी करने के बाद यह साफ हो चुका है कि स्मृति ईरानी के लिए बच्चों के लिए परीक्षा के लिहाज  2019 वाकई शानदार रहा है। पिछले दिनों ईरानी के बेटे जोहर ईरानी ने 12वीं की परीक्षा में 91 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। जिसके बाद अब 10वीं की परीक्षा में उनकी बेटी ज़ोइश ईरानी ने को 82 फीसदी अंक मिले हैं।

बेटे के परीक्षा पास करने पर स्मृति ईरानी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट करते हुए खुशी जाहिर की थी, वहीं अब उन्होंने बेटी के परीक्षा पास करने पर भी एक तस्वीर और बेटी का स्कोर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, “गर्व है कि चुनौतियों के बावजूद तुमने अच्छा किया है। चलते चलो जो”। आपको बता दें कि स्मृति के बच्चों ने अपनी परीक्षा पास कर ली है जबकि स्मृति की परीक्षा का परिणाम 23 मई को आएगा जब लोकसभा चुनाव के नतीजे सामने आएंगे।

सीबीएसई रिजल्ट

सीबीएसई  बोर्ड ने 10वीं का रिजल्ट जारी कर सोमवार को सबको सरप्राइज कर दिया। दरअसल, खबर थी कि रिजल्ट 10 मई के बाद जारी किया जाएगा लेकिन इससे कई दिन पहले 6 मई को परिणाम घोषित कर बोर्ड ने छात्रों को चौंका दिया। सिर्फ बोर्ड ने ही नहीं बल्कि छात्रों ने भी बड़ा सरप्राइज दिया है।

दरअसल, 10वीं बोर्ड की परीक्षा में 13 छात्रों ने 500 में से 499 अंक प्राप्त किए हैं और ये सभी इस साल के टॉपर हैं। जबकि दूसरे नंबर पर 24 स्टूडेंट्स हैं जिन्होंने 500 में से 498 अंक हासिल किया है। वहीं तीसरे नंबर पर 58 विद्यार्थी हैं जिन्होंने 497 अंक लाया है।

रिजल्ट देखने के लिए आप बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर डा सकते हैं। 10 वीं की परीक्षा में दक्षिण भारत का दबदबा है। जिसमें त्रिवेन्द्रम 99.85 प्रतिशत लेकर सबसे आगे है। जबकि दूसरे एवं तीसरे स्थान पर चेन्नई (99%) औऱ अजमेर (95.89%) है।

loading...