Breaking News
  • आईसीसी महिला विश्व टी-20 चैम्पियनशिप के अंतिम ग्रुप मुकाबले में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से
  • जममू-कश्मीर: पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए वोटिंग, जम्मू-21, घाटी-16 और लद्दाख के 10 ब्लॉको में वोटिंग
  • प्रधानमंत्री मोदी का मालदीव दौरा, नवनिर्वाचित राष्ट्रपति सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह

IT रेड में योगेंद्र यादव के परिजनों के घर से मिले नीरव मोदी के गहनों का सच!

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी से अलग होकर ‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना करने वाले नेता योगेंद्र यादव के परिजनों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी में 20 लाख रुपये कैश और ज्वेलरी बरामद किए जाने का दावा किया जा रहा है। ये दावा विभाग के अधिकारी कर रहे हैं, जिनमें बताया जाता है कि योगेंद्र के परिजनों के घर से बरामद किए गए गहने भारत को लूटने वाले घोटालेबाज नीरव मोदी से खरीदे थे।

दावा किया जाता है कि ये गहने यादव के परिजनों ने नकद पैसे देकर खरीदे थे। आपको बता दें कि आयकर विभाग की छापेमारी यादव के परिजनों स जुड़े अस्पताल और घर पर हुई है। बताया जाता हैं कि जिस कलावती अस्पताल पर छापे पड़े हैं वो यादव की बड़ी बहन नीलम यादव चलाती हैं, जबकि कमला नर्सिंग होम उनकी दूसरी बहन पूनम के नाम है।

SC के फैसले का 'मखौल' उड़ा रहे अधिकारी, केजरीवाल ने फिर खोला मोर्चा

आयकर विभाग के दावों को लेकर इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में योगेंद्र यादव ने कहा-हास्पिटल में छापे के दौरान जो कुछ भी मिला है, उसका स्पष्टीकरण अस्पताल प्रशासन देगा।मैंने इसलिए आवाज उठाई, क्योंकि उन्हें मेरे कार्यों के लिए दंडित किया जा रहा। पूनम के पति नरेंद्र यादव बाल रोग विशेषज्ञ हैं। आयकर विभाग की इस कार्रवाई को लेकर योगेंद्र यादव ने कहा कि ये सब बदले की भावना से किया जा रहा है।

अमरनाथ यात्रा से आई बुरी खबर, 13 श्रद्धालु घायल

उन्होंने कहा कि मैंने किसानों और शराबबंदी के लिए मुहिम चलाया, जिससे परेशान होकर बीजेपी सरकार आइटी के छापों के जरिए मेरे परिवार को निशाना बना रही है। वहीं योगेंद्र के परिजनों ने कहा कि आयकर विभाग की इस कार्रवाई को राजनीति से नहीं जोड़ियो, क्योंकि हम लोग राजनीति से नहीं इसलिए इस पर राजनीति न करें को आयकर विभाग को अपना काम करने दे।

इंडियन किम कार्दशियन ने फिर लगाई आग, तस्वीरें देख छूट जाएंगे पसीने!

परिजनों के अनुसार यह आयकर विभाग की ड्यूटी है, इसलिए हम इस छापेमारी पर कुछ टिप्पणी नहीं करना चाहते हैं। वहीं छापे के दौरान नीरव मोदी से आभूषण खरीदने के मामले पर उन्होंने कहा कि, क्या क्या नीरव मोदी के आभूषण बाजार में नहीं बिक रहे थे। आपको बता दें कि इस मामले में अभी और भी खुलासे होने की आशंका जताई जा रही है।

loading...