Breaking News
  • पीएम मोदी ने किया पूर्वी दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे और पेरिफेरल एक्सप्रेसवे के पहले चरण का उद्घाटन
  • रियल मेड्रिड ने जीता चैंपियंस लीग 2018 का ख़िताब
  • अगले 20-22 सालों तक मैं ही पार्टी की अध्यक्ष रहूंगी, दूसरा कोई सपना न देखे: मायावती
  • श्रीनगर: सड़क दुर्घटना में सीआरपीएफ के 19 जवान घायल

VIDEO: बेटे की हत्या और पिता के साथ गेम खेल रहे CM केजरीवाल!

नई दिल्ली: देश की राजधानी के पश्चिमी दिल्ली के ख्याला में बीते दिनों एक निर्मम मामले में अंकित सक्सेना नामक एक युवक की कथित तौर पर उसकी प्रेमिका के परिवार वालों ने हत्या कर दी थी। जिसके बाद अब अंकित सक्सेना के पिता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, ‘दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल मेरे साथ गेम खेलना बंद करें’।

दरअसल अंकित की मौत के बाद सोमवार को तेरहवीं पर शोक सभा का आयोजन किया गया, जहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी पहुंचे। जिसके कुछ समय बाद ही दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने एक वीडियो पोस्ट करते हुए सीएम पर गंभीर आरोप मढ़ते हुए कहा कि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अंकित सक्सेना की शोक सभा में शामिल होने और उनके परिवार से मिलने उनके घर गए थे, लेकिन वहां उन्होंने जो व्यवहार किया वो बेहद आपत्तिजनक है।

मिश्रा ने कहा कि, अंकित के घरवालों ने जब सीएम से कहा कि की जीवन यापन मुश्किल हो रहा है आप एक सहायता राशि की घोषणा कीजिए तो उनके बोलते हुए ही मुख्यमंत्री वहां उठ कर चल दिए। मिश्रा ने बताया कि अंकित के पिता पीछे से उन्हें आवाज लगाते रहे और अंत में उन्हें कहना पड़ा कि मेरे साथ गेम मत खेलो, ये बेहद अपमानजनक है,  क्या मुख्यमंत्री वहां उनका अपमान करने गए थे! शोक सभा से ऐसे नहीँ जाया जाता।’’

आखिर कहां है मेरे ‘कलेजे का टुकड़ा’- दिल्ली से गायब हुआ दिल्ली पुलिस का दरोगा

मिश्रा ने कहा कि, 'किसी के जवान बेटे की शोकसभा से उठकर चले जाना, AnkitSaxena के पिता बुलाते रह गए, शोकसभा से ऐसे जाना अपमान करने के समान, आपत्तिजनक, "धर्म" देखकर मुआवजे की कीमत लगाते है केजरीवाल जी'। तो वहीं मीडिया रिपोर्ट के हवाले से भी दावा किया जा रहा है कि, अंकित के पिता सीएम से अपनी बात कहना चाहते थे, लेकिन वे वहां से चले गए, जिसके बाद उन्होंने कहा कि, मेरे साथ कृप्या गेम न खेले।

JK: आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में घायल हुई ‘सेना’ की पत्नी ने दिया बेटी को जन्म

loading...