Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहुंचे राहुल गांधी
  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार
  • मां से आशीर्वाद लेने के लिए कल गुजरात जाएंगे मोदी
  • सूरत अग्निकांड में अब तक 21 की मौत, 3 के खिलाफ FIR दर्ज
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

Inside Story: पति को मौत की नींद सुलाने में अपूर्वा को लगे 90 मिनट, पढ़िए पूरी कहानी

नई दिल्ली: दो राज्यों के मुख्यमंत्री रहे दिवंगत कांग्रेसी नेता एन डी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की हत्या मामले में उनकी पत्नी अपूर्वा शुक्ला को गिरफ्तार किया है। मामले के करीब 9 दिन बाद अपूर्वा को गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने बताया कि आरोपी ने अपना अपराध कबूल किया है। पति की हत्या मामले में पुलिस ने अपूर्वा से तीन दिन तक पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया है।

पुलिस की माने तो अपूर्वा लगातार बयान बदल रही थी जिसके कारण शक की सूई बार-बार अपूर्वा पर आकर ठहर रही थी। अतिरिक्त पुलिस आयुक्त राजीव रंजन ने बताया कि, अपूर्वा की गिरफ्तारी वैज्ञानिक सबूतों और एफएसएल रिपोर्ट के आधार पर की गई है। पुलिस ने बताया कि अपूर्वा अपीन शादीशुदा जिंदगी में खुश नही थी, जिसके कारण उसने ऐसा किया। क्राइम ब्रांच के अनुसार, आरोपी पहले जांच टीम को भटकाने की कोशिश कर रही थी। लेकिन गहन पूछताछ के बाद वह टूट गई और अपना अपराध कबूल कर लिया।

पुलिस के अनुसार 16 अप्रैल को अपूर्वा ने रोहित के कमरे में घुसकर वारदात को अंजाम दिया और सबूत मिटा दिये। इस पूरे काम के लिए उसने करीब 90 मिनट का समय लिए। बता दें कि पहले रोहित की मौत हार्ट अटैक के कारण होने की बात सामने आ रही थी। वहीं उनकी मां ने भी हत्या की बात नाकारते हुए प्राकृतिक मौत बताया था। लेकिन रोहित के पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने मामले को नया मोड़ दिया।

रिपोर्ट के अधार पर पुलिस ने दावा किया कि रोहित की मौत प्राकृतिक नहीं बल्कि हत्या है। वहीं रोहित की मां ने मीडिया को दिए अपने बयान में इशारा किया कि रोहित की हत्या के पीछे संपत्ति भी हो सकती है। दरअसल, रोहित की मां उज्ज्वला ने रविवार को अपनी बहू अपूर्वा और उसके परिवार पर लालची होने का आरोप लगाते हुए कहा था कि वे पारिवारिक संपत्ति हड़पना चाहते थे। उन्होंने यह भी दावा किया कि रोहित और अपूर्वा के बीच संबध मधुर नहीं थे। शादी के पहले दिन से ही इनके बीच झगड़े हो रहे थे।

वहीं मामले में एक नया एंगल ये भी है रोहित का किसी अन्य महिला से अवैध संबंध था। मीडिया रिपोर्ट की माने तो अपूर्वा ने अपने पति को उसके गर्लफ्रेंड के साथ देख लिया था। जिसके कारण उसकी हत्या कर दी। बता दें कि जिस वक्त रोहित की हत्या हुई उससे पहले रोहित ने शराब पी थी और अपने कमरे में शो रहे थे।

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दावा किया जाता है कि वारदात वाली रात अपूर्वा रोहित के कमरे में जाती और कुछ समय बाद कमरे से आती कैमरे में कैद हुई है। बताया जाता है कि अपूर्वा अपने पति के कमरे में गई और तकिये से मुंहव गला दबा कर उसकी हत्या कर दी और सबूत मिटाने के बाद वहां से निकल गईं। बता दें कि मामले की जांत अब भी चल रही है, लिहाजा इस मामले में अभी और खुलासे हो सकते हैं।

रोहित-अपूर्वा की प्रेम कहानी बनी नफरत की दास्तां

आपको बता दें कि रोहित की पत्नी अपूर्वा सुप्रीम की वकील हैं। अपूर्वा और रोहित की पहली मुलाकात मेट्रोमोनियल साइट के जरिए हुई थी। जिसके बाद साल 2017 में दोनों लखनऊ में एक दूसरे से मिले थे और दोनों का प्यार परवान चढ़ा। प्यार बंधन को शादी का नाम देते हुए रोहित ने 31 मार्च को अपूर्वा संग सगाई की और फिर 11 मई को दिल्ली में पांच अशोका रोड स्थित आनंद भवन में दोनों ने सात फेरे लेते हुए सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खाई। लेकिन इनके अटूट संबंध पहले जन्म में ही ताश के पत्तों की तरह बिखर गए।

loading...