Breaking News
  • अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो आज करेंगे पीएम मोदी और एस. जयशंकर से मुलाकात
  • WC 2019 : इंग्लैंड को 64 रनों से हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा ऑस्ट्रलिया
  • WC 2019 : बर्मिंघम के मैदान पर आज भिड़ेंगे न्यूजीलैंड और पाक
  • राज्यसभा में 26 जून को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर जवाब देंगे पीएम मोदी
  • केंद्रीय गृहमंत्री शाह 26 जून को जाएंगे श्रीनगर, कल करेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन

दहशत में दिल्ली- गोलियों की तड़तड़ाहट के बाद दिल्ली पुलिस SI की पीट-पीट कर हत्या

नई दिल्ली: सुरक्षा के लिहाज से राष्ट्रीय राजधानी कितनी सुरक्षित है इसका अंदाजा ऐसे लगा सकते हैं कि दिल्ली की सड़कों पर एक पुलिसकर्मी की पीट-पीट कर हत्या कर दी जाती है। अपराधियों के हैसले इस कदर बुलंद हो चुके हैं कि राजधानी की सड़कों पर अय दिन गोलीबारी कर जाते हैं। मनचले इतने बेखौफ हो चुके हैं कि राह चलती बेटियों को न सिर्फ छेड़ते बल्कि मना करने पर पिता की हत्या कर देते हैं। ये वो घटनाएं हैं जो राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था को कलंकित करते हैं।

दरअसल, राजधानी के शाहदरा के विवेक विहार में दिल्ली पुलिस के एसआई राजकुमार (65 साल) की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि आरोपी बदमाश को यह पता था कि वह जिसे पीट रहा है वो दिल्ली पुलिस का एसआई है। हालांकि इसके बाद भी उसके हाथ नहीं कांपे। पुलिसकर्मी को अधमरी हालत में सड़क पर छोड़कर फरार हो गया।

हालांकि कुछ समय बाद घायल एसआई को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन  उसकी जान चली गई। मृतक एसआई की पत्नी व बेटी का आरोप है कि उसके पति-पिता की हत्या शराब माफियाओं ने करवाई है। पीड़िता परिवार के अनुसार हत्यारोपी विनोद है। बताया जाता है कि आरोपी विनोद विवेक एक पेशेवर अपराधी है, जो जेल भी जा चुका है। आरोपी के खिलाफ विवेक विहार थाने में करीब दो दर्जन एफआईआर दर्ज है।

खबरों की माने तो आरोपी और एसआई के बीच पहले भी झगड़ा हुआ था। पुलिस और अपराधी के बीच अवैध शराब की बिक्री को लेकर झगड़ा हुआ था। बताया जाता है कि अपराधी विरोध शराब माफिआओं के संपर्क में था , जबकि एसआई अपने इलाके में अवैध शराब की बिक्री पर नकेल कसने की कोशिशों में लगा था। पीड़ित परिवार को आशंका है कि अब उनकी जान को भी खतरा है। लिहाजा परिवार को पुलिस प्रोटेक्शन दिया जाए और अपराधी को कड़ी से कड़ी सजा मिले।

जबकि इससे दिल्ली के द्वारका मोड़ मेट्रो स्टेशन के नीचे रविवार शाम करीब 4 बजे काली गाड़ी में सवार कुछ बदमाशों ने सफेद रंग की रिट्ज कार पर फायरिंग कर करीब 15 राउंड फायरिंग की। जिसमें रिट्ज कार सवार एक शख्स मारा गया। वहीं गोलियों की तड़तड़ाहट से सहमे पुलिस भी हरकत में आई और गोलीबार कर रहे बदमाश को ढेर कर दिया।

पुलिस के अनुसार, जिस शख्स की कार में मौत हुई उसका नाम प्रवीण गहलोत था। नवादा इलाके का रहने वाला प्रवीन एक नामी अपराधी था जबकि प्रवीण को गोली मारने वाले शख्स का नाम विकास दलाल है। पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक विकास भी एक वांक्षित अपराधी है। जिसके खिलाफ कई मामले दर्ज हैं।  पुलिस की माने तो पहली नजर में वारदात के पीछे गैंगवार की अंदेशा दिख रही है।

loading...