Breaking News
  • जम्मू-कश्मी: सोपोर में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, कई इलाकों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद
  • सपा-बसपा सरकारों के पास गरीबी को हटाने के लिए कोई एजेंडा नहीं था: सीएम योगी
  • सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने पर देश मनाएगा पराक्रम पर्व
  • आज सुबह 9:17 बजे असम की बारपेटा में 4.7 तीव्रता से भूकंप के झटके

बुराड़ी कांड: सामने आया मौत के रजिस्टर का पहला अध्याय, इन 2 लोगों ने ले ली 11 की जान!

नई दिल्ली: यहां बुराड़ी में एक ही घर से 11 लाश बरामद होने के मामले में पुलिस की जांच अब भी जारी है। इस क्रम में आय दिन एक के बाद एक हैरान कर देने वाले खुलासे हो रहे हैं। इस बीच अब जो खुलासा हुआ है उसमें इन 11 लोगों के मौत के पीछे दो लोगों का हाथ बताया जा रहा है।

इससे पहले आपको बता दें कि इस हैरान कर देने वाले में मामले में अब तक की जांच के आधार पर यह साफ होता दिख रहा है कि इश मामले में घर के ही परिवारा का हाथ है, क्योंकि ऐसा दावा किया जा रहा है कि इस दौरान कोई भी शख्स घर से न तो बाहर गया और न कोई अंदर आया।

दावा किया जाता है कि मैत से पहले 24 जून से लेकर 29 जून तक हर रात परिवार के सभी फांसी पर लटकने की प्रैक्टिस किया करते थे। जो एक अनुष्ठान के तहत किया जा रहा था। बताया जा रहा है कि था कि घर के ही एक सदस्य ललीत ने अपने परिवार को इस बात के लिए राजी किया था कि ऐसा करने से किसी की मौत नहीं होगी।

खबरों के अनुसार ललीत ने परिवार के लोगों से कहा था कि ऐसा करने से किसी की जान नहीं जाएगी, मोक्ष की प्राप्ति होगी और परिवार की शक्ति भी बढ़ेगी। बताया जाता है कि 24 जून से लेकर 29 जून तक घर में खास अनुष्ठान होता था, जिसके बाद रात में पूरा परिवार अपने गले में फंदा डाल कर प्रैक्टिस करता है।

दोस्तों के साथ ‘देशद्रोही’ महिला को दिल्ली लाया गया, जाने आगे क्या होगा

लेकिन सातवें दिन 30 जून की रात अन्य दिनों के मुकाबले नियम में कुछ बदलाव हुआ और अब इन लोगों के आंखों पर पट्टी बांध दिए गए, और प्रैक्टिस के दौरान जो पैस जमीन पर टिके होते थे उन्हें स्टूल पर टिका दिया। क्योंकि घर से सदस्य इसकी प्रैक्टिस कर चुके थे, इसलिए नियम में बदलाव होने के बाद भी इनके अंदर घबराहट नहीं हुई।

दावा किया जाता है कि इन सारी प्रक्रियाओं को अंजान देने वाला कोई और नहीं बल्कि ललित और उसकी पत्नी टीना थी, जिसने पूरे परिवार को स्टूल पर फंदे में खड़ा कर दिया और उनके पैरों के नीचे से स्टूल हटा दिया, और फिर दोनों खुद भी इसी तरह से फांसी के फंदे पर झूल गए। बाताया जाता है कि पत्नी से पहले ललित फंदे पर झूला और अंत में ललित की पत्नी टीना भी फांसी के फंदे से लटक गई।

दिल्ली:11 मौत वाले घर से मिला एकमात्र जिंदा चश्मदीद,उसकी भी हालत खराब

आपको बता दें कि ये सभी बातें पुलिस की जांच के आधार पर मीडिया रिपोर्ट के हवाले से बताई जा रही है। बताया जाता है कि मामले की जांच के दौरान पुलिस ने घर से कुछ रजिस्टर बरामद किए हैं, जिनमें मोक्ष की प्राप्ति के इन तरीकों के जिक्र किया गया है। हालांकि पुलिस की जांच अब भी जारी है।

loading...