Breaking News
  • कानपुर और कानपुर देहात में ज़हरीली शराब पीने से 9 लोगों की मौत, 18 की हालत गंभीर
  • छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा नक्सली हमले में 6 पुलिसकर्मी शहीद, 1 घायल
  • रूस दौरे पर रवाना हुए पीएम मोदी, रूसी राष्ट्रपति के साथ अनौपचारिक बैठक

कर्नाटक से केजरीवाल के लिए बुरी खबर,APP का हाल जान हैरान रह जाएंगे!

बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के परिणाम राज्य की नई सरकार की गठन से पहले गजब की स्थिती दिख रही है। राज्य में किसी एक पार्टी के पास इतनी सीटें नहीं कि बहुमत की सरकार बना सके। चुनाव परिणाम आने के बाद 104 सीटों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी और 78 सीटों के साथ कांग्रेस दूसरे नंबर की पार्टी है जबकि 38 सीटों के साथ जेडीएस तीसरे नंबर की पार्टी है।

वहीं कुछ अन्य दलों के उम्मीदवार भी चुनावी मैदाम में दांव लगाया था, जिनमें से दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पर्टी के उम्मीदवार भी थे, लेकिन चुनाव परिणाम आने के बाद बीजेपी और कांग्रेस+ जेडीएस में सरकार बनाने को लेकर धक्का मुक्की जारी है वहीं आप पार्टी एक भी सीट जीतने में न सिर्फ नाकाम रही बल्कि उम्मीदवारों की की जमानत जब्त हो गयी है।

लिहाजा राष्ट्रीय पार्टी बनने की होड़ में शामिल पार्टी मुखिया अरविंद केजरीवाल को तगड़ा झटका लगा है। गौर हो कि कर्नाटक के चुनावी मैदान में आप ने 29 प्रत्याशी उतारे थे, जो अपनी जमानत बचाने में भी नाकम रहे। जबकि आप पार्टी से अलग हुए योगेन्द्र यादव की अगुवाई वाली स्वराज इंडिया के उम्मीदवारों ने आप पार्टी के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन किया है।

स्वराज इंडिया ने 11 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे, जिनमें से मेलुकोटे सीट पर उम्मीदवार दर्शन पुत्तन्नैयाह को 73,779 वोट मिले हालांकि वह इसके बाद चुनाव जीत नहीं सके और उन्हें दूसरा स्थान मिला। कुल मिलाकर कर्नाटक चुनाव में स्वराज इंडिया को 0.2 प्रतिशत वोट मिले है। ऐसे में अगर केजरीवाल की पार्टी की बात करें तो वे पूरे देश में अपनी पार्टी को फैलाने की इच्छा रखते हैं, लेकिन दिल्ली के अलाव लगभग सभी जगहों पर आप पार्टी को ‘मुंह की खानी पड़ी’ है।

कर्नाटक: नहीं बनी कांग्रेस की सरकार तो होगा खूनी संघर्ष…

बड़ी खबर: कर्नाटक कांग्रेस के 12 विधायक बीजेपी में शामिल?

बड़ी खबर: तेज की शादी के बाद RJD में छाया मातम, शादी में शामिल हुए बड़े नेता समेत 4 की मौत!

loading...