Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

‘मेरी बीवी को मुझसे अलग कर दिया, मैं अपने बच्चे को अकेले पाल रहा हूं’

नई दिल्ली: सरकार के दबाव में हिंदी न्यूज चैनल के तीन वरिष्ठ पत्रकारों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का मामला अब काफी आग बढ़ चुका है, एक ओर मामले पर पत्रकारों के संगठन 'फाउंडेशन फॉर मीडिया फ्रोफेशनल्स' ने सरकार से जवाब मांगा है। संगठन ने मीडिया में सूचना और प्रसारण मंत्रालय की दखलंदाजी के आरोपों पर जवाब चलब किया है।

वहीं दूसरी ओर चैनल से निकाले जाने के बाद पत्रकार खुलकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रहे हैं। इस क्रम में पुण्य प्रसून बाजपेयी और अभिसार शर्मा खुले तौर पर अपने रिपोर्ट में सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए सरकारी नीतियों की आलोचना कर रहे हैं, वहीं पत्रकार सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर भी सरकार और सरकारी नीतियों की आलोचना करते नहीं तक रहे रहे।

ABP ने इन दिग्गजों को क्यों किया बाहर, लोकसभा गरमाया माहौल

अभी पिछले दिनों बाजपेयी ने दावा किया था कि मीडिया पर दबाव यूपीए की सरकार के दौरान भी होता था, लेकिन हाल के दिनों ये दबाव काफी बढ़ गया है। जो खबरे सरकार को नापसंद होती है उन्हें प्रसारित करने पर सा फोन आ जाता है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि ये फोन पीएम के ऑफिस से या भाजपा कार्यालय से भी आ सकता है।

देखिए- संसद में ऐसा क्या हुआ जिसे देख पीएम मोदी रह गए दंग, हालत मत पूछिए

वहीं इन दिनों अभिसार शर्मा का भी एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह मौजूदा सरकरा और देश के कुछ अन्य पत्रकारों पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं। इसके साथ ही अभिसार शर्मा ने कहा कि मैं सरकार या किसी और की चाटुकारिता नहीं करता बल्कि उनसे सवाल करता हूं, जिसकी भारी कीमत मुझे कई बार चुकानी पड़ी है। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी बीवी को उनसे अलग कर दिया गया। वह अपने बच्चे को अकेले पाल रहे हैं।

यहां सुनिए अभिसार शर्मा ने क्या कहा...

loading...