Breaking News
  • असम में 6.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए
  • 543 में से 303 लोकसभा क्षेत्रों में मतदान संपन्नः चुनाव आयोग
  • रोहित शेखर तिवारी मौत मामले में पत्नी अपूर्वा शेखर गिरफ्तार
  • IPL: 11 मैच में 8 जीत के साथ CSK ने बनाई प्लेऑफ में जगह

दिल्ली में दर्दनाक अग्नी कांड, जान बचाने के लिए मौत के मुंह में कुद गए लोग- अब तक 17 मरे

नई दिल्ली:  देश की राजधानी के करोल बाग इलाके में अर्पित पैलेस होटल में मंगलवार तड़के लगी भीषण आग में अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई अन्य लोग घायल भी हुए हैं। पांच मंजिला होटल में आग लगने की दर्दनाक घटना में मारे गए लोगों में कुछ महिलाएं व बच्चे भी शामिल हैं।

बताया जाता है कि होटल में रात के समय आपातकालीन दरवाजे बंद थे, जिसके कारण तीन लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए उपर से नीचे छलांग लगा दी। घटना की जानकारी देते हुए एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि, होटल में आग करीब चार बजे (सुबह) में लगी थी, जिसके बाद होटल से करीब 35 लोगों को बचाया गया।

आग लगने की सूचना पर पहुंची दमकल की 20 से अधिक गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। पुलिस अधिकारी के बाद दोपहर तक आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया और अग्निशमनकर्मियों ने सभी कमरों एवं शौचालयों की तलाशी ली है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अब कोई फंसा नहीं है।

मोदी की बायोपिक में जशोदाबेन का रोल निभाने वाली एक्सट्रेस कौन है, तस्वीरें वायरल

मामले में पुलिस ने होटल मालिक के खिलाफ लापरवाही का मामला दर्ज किया है। हालांकि खबर है कि घटना के बाद से मालिक फरार चल रहा है। इस दर्दनाक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य कई नेता व मंत्रियों ने दुख व्यक्त किया है। घटना को लेकर केंद्रीय पर्यटन मंत्री के.जी. अल्फोंस ने कहा कि होटल के आपातकालीन दरवाजे बहुत संकीर्ण थे और इसके निर्माण में दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया गया था।

 

उन्होंने मीडिया से कहा कि, हमें जो सूचना मिली है, उसके अनुसार इन दरवाजों को रात में बंद कर दिया जाता था और बाहर गार्ड बैठा करता था। हालांकि हम नहीं पता कि घटना के दौरान गार्ड वहां था, या नहीं। वहीं मामले को गंभीरता से लेते हुए दिल्ली सरकार ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं।

दिल्ली सरकार के आवास एवं शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि होटल ने निर्माण मानदंडों का उल्लंघन किया था। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मालिक के पास होटल व बार चलाने का वैध लाइसेंस है या नहीं, इसकी जांच की जाएगी। साथ ही उन्होंने मारे गए लोगों के परिजनों के लिए पांच-पांच लाख रुपये की सहायता राशि दिए जाने की घोषणा की है।

पानी से जलता है इस मंदिर का चमत्कारी दीपक, जानिए क्यों होता है ऐसा!

loading...