Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पूछ में पाक सेना ने किया युद्ध विराम का उल्लंघन, भारतीय सेना दे रही है मुंहतोड़ जवाब
  • देश भर में धूम-धाम से मनाया गया 71वां स्वतंत्रता दिवस और जन्माष्टमी का त्योहार
  • महाराष्ट्र में दही-हाथी संबंधित घटनाओं में दो मृत, 197 घायल
  • हिमाचल प्रदेश के चंबा में 3.5 की भूकंप के झटके

दर्दनाक: नहीं मिला एंबुलेंस, सड़क पर हुआ बच्ची का जन्म के साथ मौत

सरकार और उसके खोखले दावों की पोल खोलती यह खबर है जिला मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर दूर बरही से, जहां एक महिला को पिछले दिनों सड़क पर ही बच्चे को जन्म देना पड़ा, इस दौराव सबसे बुरी बार तो यह हुई की सड़क पर प्रसव के दौरान बच्ची जमीन पर गिर गई और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

घटना का बाद महिला को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत में सुधार देखा जा रहा है। मामले में अगर सरकार और सरकारी कर्मचारी अगर थोड़ा भी मामले को समझ पाते तो इस दर्दनाक घटना को रोका जा सकता था।

दरअसल यह मामला सोमवार 31 जुलाई का बताया जाता है। महिला के परिजन का आरोप है कि महिला को प्रसव पीड़ा के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही ले जाने के लिए उसका पति स्वास्थ्य केन्द्र में करीब डेढ घंटे तक फरियाद करता रहा लेकिन इसके बाद भी उसकी किसी ने नहीं सुनी और उसे एंबुलेंस नहीं मिल सकी।

आपको बता दें कि पीड़ित महिला का पति स्वास्थ्य केन्द्र एंबुलेंस की भीख मांगता रहा और पत्नी अपने पति की राह देखती रही, लेकिन जब काफी देर तक कोई अच्छी खबर नहीं मिली तो वह पैदल ही सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही की ओर निकल गई। महिला बरमानी गांव की रहने वाली है, जहां से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बरही लगभग 20 किलोमीटर दूर है।

ऐसे में महिला अभी कुछ दूर ही पहुंची थी कि बरही पुलिस थाने के पीछे सड़क पर उसका प्रसव हो गया और नवजात बच्ची वहीं जमीन पर गिर गई, जिस कार उसकी मौत हो गई। मामले में सबसे गंभीर सवाल है कि आखिर इसमें उस बच्ची का क्या कसूर था, जो अपने गरीब माता पिता और निर्लज सरकार की सुविधाओं की भेंट चढ़ गई।

loading...

Subscribe to our Channel