Breaking News
  • निर्यातकों के लिए बड़ी सौगात, विदेशी मुद्रा में कर्ज़ उठाने की मिलेगी सुविधा
  • भारत और स्लोवेनिया के बीच निवेश, खेल, संस्कृति

शर्मनाक: सीएम खट्टर के कार्यक्रम में महिलाओं की उतरवाई गई ‘चुन्नी’

चंडीगढ़: घूँघट में हरियाणा की शान ढूंढने वाले राज्य के सीएम मनोहरलाल खट्टर के कार्यक्रम में महिलाओं के साथ ऐसा व्यवहार किया गया, जिससे जलील से जलील इंसान भी शर्म में गस खाकर गिर जाए। भिवानी में सीएम के कार्यक्रम के दौरान महिलाओं की चुनरी उतरवाकर सीएम के सामने पेश किया गया।

पूरा मामला शनिवार का है, जब भिवानी में हरियाणा स्वर्ण जयंती समारोह के दौरान महिलओं के साथ इस तरह की शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया गया है। बताया जा रहा है कि पंचायती राज मंत्री ओपी धनकड़ ने हरियाणा की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को कार्यक्रम में आमंत्रित किया था। जिसके तहत भीम स्टेडियम में बड़ी संख्या में महिला स्वयं सहायता सदस्य आई हुई थी। इनमें से कुछ महिलाओं ने काले कपड़े पहने थे, उन्हें पंडाल में घुसने ही नहीं दिया गया।

ये डॉक्टर नहीं भगवान ही हैं- अपना खून देकर बचाई मरीज की जान, किडनी देने को भी तैयार...

साथ ही उन्ही महिलाओं को कार्यक्रम में जाने दिया गया जिन्होंने चुनरी उतार दी, या बदलकर दूसरी पहन ली। वहीँ पुलिस द्वारा कार्यक्रम में चुनरी उतरवाए जाने की घटना से महिलाएं असहज दिखी कुछ वह बिना कार्यक्रम में शामिल हुए ही चली गयी। इससे जयादा शर्मनाक बात यह है कि जिन महिलाओं ने कार्यक्रम में जाने के लिए चुनरी उतार दी थी, कार्यक्रम के बाद उनको चुनरी भी वापस नहीं की गयी, जिससे महिलाओं को बिना चुनरी के ही घर जाना पड़ा।

बुलंद हैसले के सथ विदेश जीतने रवाना हुई भारतीय टीम

घुघंट में हरियाणा की शान खोजने वाली कथित बीजेपी सरकार को पता होना चाहिए की महिलाओं की इज्जत चेहरा ढकने से ही नहीं बल्कि शरीर भी ढकने से होती है। वहीँ महिलाओं के इस तरह अपमान पर विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय चौटाला ने कहा कि सीएम खट्टर को इस वाकये पर जवाब देना होगा। उन्होंने कहा कि सीएम को शायद यह पता भी नहीं है कि महिलाओं के लिए चुनरी व दुपट्टा का क्या महत्व होता है। .

यह भी देखें-

loading...