Breaking News
  • हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी, स्कूल-कॉलेज आज रहेंगे बंद
  • एशिया कप: पाकिस्तान को दी 9 विकेट से करारी शिकस्त देकर फाइनल में भारत
  • मुंबई समेत पूरे देश में बप्पा को धूमधाम से दी गई विदाई

RTI खुलासा: ट्रांसफर के बाद भी '22 सालों' से एकही स्कूल में टिकी हैं सीएम रावत की पत्नी

देहरादून: उतराखंड के त्रिवेंद्र सिंह रावत को लेकर इस समय मामला गर्म चल रहा है। जहाँ एक ओर उनके द्वारा एक शिक्षिका पर जनता दरवार में कार्रवाई करने का मामला तूल पकड़े ह्युए हैं। वहीँ अब खुद सीएम रवात की पत्नी को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ है।

बतादें कि एक आरटीआई कार्यकर्ता प्रवीन शर्मा ने राज्य के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की पत्नी को लेकर एक आरटीआई जरिये जानकारी मांगी थी। आरटीआई कार्यकर्ता को उनके विभाग द्वारा दी गयी जानकारी में सवाल उठने वाला खुलासा हुआ है। दरअसल सिएइम रावत की पत्नी के स्कूल शिक्षिका है और देहरादून के अजबपुर सरकारी स्कूल में पोस्टेड हैं। यहाँ तक बात सामने है, लेकिन आगे को जानकारी सामने आई है उससे सवाल खड़ा हो गया है। दरअसल हाला ही में सीएम रावत ने अपन जनता दरवार में एक वृद्ध शिक्षिका को डांटा ही नहीं बल्कि उसे सस्पेंड करते हुए गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया था।

महाराष्ट्र: विकासशील भारत की दिल दहला देने वाली तस्वीर...

 

शिक्षका अपने स्वास्थ्य आदि को लेकर ट्रांसफर संबंधी गुहार लेकर पहुंची हुई थी। वहीँ शिक्षका पर कार्रवाई के बाद अब सीएमं की पत्नी सुनीता रावत को लेकर खुलासा अहा है कि वह देहरादून के अजबपुर स्कूल में पिछले 22 सालों से पोस्टेड हैं। इतना ही नहीं आरटीआई में यह भी सामने आया है कि सीएम रावत की पत्नी का साल 2008 में ट्रांसफर होने के बाद भी उन्होंने देहरादून नहीं छोड़ा और राजधानी देहरादून के अजबपुर के स्कूल में काम कर रही हैं। वहीँ आरटीआई कार्यकर्ता प्रवीन शर्मा ने आगे जानकारी देते हुए कहा कि, मुख्यमंत्री की पत्नी सुनीता रावत की पोस्टिंग के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए कई परेशानियों से गुजरना पड़ा।

थम नहीं रही गुजरात बीजेपी में कलह: दो विधायकों ने दी धमकी...

कई बार तो उन्हें लगा कि उनकी आरटीआई का जवाब ही नहीं मिलेगा। आपको जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में एक जनता दरवार के दौरान उत्तरा पन्त नाम की शिक्षिका पाने ट्रांसफर को लेकर सीएम एक जनता दरवार पहुंची थी, उनका कहना है कि वह उत्तरकाशी के प्राइमरी स्कूल में पिछले 20 साल पढ़ा रही हैं,  और लंबे समय से अपने ट्रांसफर की मांग कर रही हैं। उसके बाद भी उनका ट्रांसफर नहीं किया जा रहा है। इसी दौरान उन्होंने सीएम रावत की पत्नी के ट्रांफर की बात कहकर इस मामले पर लोगों का ध्यान खीचा था।

यह भी देखें-

 

 

 

loading...