Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • आतंकवाद के खिलाफ़ कार्रवाई में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 36 घंटों के अंदर 8 आतंकी ढेर
  • पाकिस्तान ने राष्ट्रीय दिवस पर अलगाववादी नेताओं को किया आमंत्रित, भारत ने जताया सख्त ऐतराज
  • शहीद दिवस पर आजादी के अमर सेनानी वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को नमन कर रहा है देश
  • आज IPL के 12वें सीजन का आरंभ, एम एस धोनी और विराट कोहली आमने-सामने

विरोध करने वालों पर संसद में छड़ी बरसाते दिखे ‘मोदी’

नई दिल्ली: असम में नागरिकता संशोधन बिल 2016 को लेकर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी विरोधी दलों के निशाने पर हैं। सिर्फ विरोधी हीं नहीं बल्कि बीजेपी की सहयोगी दल भी इस मसले पर साथ नहीं दे रहे हैं। मामले पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए बीते दिन असम सरकार में बीजेपी की सहयोगी रही असम गण परिषद ने गठबंध तक तोड़ दिया।

वहीं इस बिल के खिलाफ मंगलवार को संसद में में विरोध प्रदर्शन का दौर जारी रहा। इस बिल के खिलाफ असम गण परिषद  के अलावा शिवसेना और टीएमसी के साथ कुछ अन्य पार्टियां भी। वहीं टीएमस के सांसदों ने आज बिल का विरोध करते हुए संसद परिशर में अनोखा प्रदर्शन किया।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति पीएम मोदी का मुखौटा लगाए दिख रहा है, जिसने हाथ में छड़ी ले रखा है। वहीं कुछ अन्य लोग जमीन पर लेटे दिख रहे हैं और छड़ी वाला व्यक्ति इनकी पिटाई करते दिख रहा है। न्यूज एजेंसी के अनुसार ये सभी लोग ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी के सदस्य हैं जो असम में नागरिकता संशोधन बिल 2016 का विरोध कर रहे हैं।

आपको बता दें कि इस बिल के अनुसार, नागरिकता के लिए 11 साल की अवधि को छह साल करने का प्रस्ताव रखा गया है। वहीं इसमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के अल्पसंख्यकों (हिंदुओं, सिखों, बौद्धों, जैन, पारसियों और ईसाइयों) को बिना वैध दस्तावेज के भारतीय नागरिकता देने का प्रस्ताव भी है।

loading...