Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

शर्मनाक : टॉयलेट में फेंका सेनेटरी पैड, तो टीचर ने उतरवाए छात्राओं के सारे कपड़े फिर...

पंजाब : अभी जहां महिलाएं  सहीं से सेनेटरी पैड्स के बारें में जानते भी नहीं हैं। वहीं एक टीचर ने अपने स्कूल की छात्राओं को इस मसले पर जागरूक करने के बजाए उनके कपड़े उतरवा दिए, वो भी इसलिए की लड़कियां सेनेटरी पैड्स पहनी हुई है या नहीं। दरअसल यह घटना पंजाब के फाजिल्का जिले के कुंडल गांव के एक सरकारी स्कूल का हैं। जहां एक शिक्षिका ने छात्राओं की माहवारी का पता लगाने के लिए 6ठीं और 7वीं कक्षाओं की 15 छात्राओं के कपड़े उतारकर तलाशी ली। जिसके बाद बड़ा विवाद खड़ा हो गया है।

नाबालिग लड़के ने किया संबंध बनाने से इंकार तो महिला ने जबरदस्ति घुसेड़ा...

गौरतलब है कि गुरुवार को आरोपी टीचर ने जब गर्ल्स स्कूल के टॉयलेट में इस्तेमाल किया गया सेनेटरी नैपकिन देखा तो वह आग बबूला हो गई। उन्हें अंदेशा था कि इस तरह से फेंके गए सेनेटरी पैड से टॉयलेट का पाइप ब्लॉक हो जाएगा। आरोपी शिक्षिका ने छात्राओं को सेनेटरी पैड्स के सही निस्तारण करने का तरीका बताने के बजाए ये जानना जरूरी समझा कि आखिर किसने टॉयलेट में सेनेटरी पैड को इस तरह फेंका है। छात्राओं को जागरूक करने की बजाय टीचर ने  7वीं और 8वीं कक्षाओं की छात्राओं के कपड़े उतारकर तलाशी ली।

बड़ी खबर : अमृतसर में बड़ा ट्रेन हादसा, 61 की मौत , 150 घायल, अधिकतर यूपी और बिहार के

पीड़ित छात्राओं ने जब अपने माता-पिता को आपबीती बताई तो मामला स्कूल प्रबंधन और एसडीम के संज्ञान में लाया गया। जब अबोहर की एसडीम पूनम सिंह ने शनिवार को स्कूल का दौरा किया तो आरोपी शिक्षिका के स्कूल आने पर रोक लगा दी गई। मामले का तुरंत संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को आरोपी शिक्षिका सहित एक अन्य अध्यापक के तबादलों के आदेश जारी कर दिए। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मामले को गंभीर बताते हुए जांच के आदेश भी दे दिए हैं। मुख्यमंत्री ने पंजाब के शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार को मामले की जांच करके उसके रिपोर्ट सोमवार तक पेश करने के लिए कहा है।

लिफ्ट में वॉचमैन के सामने इस मॉडल ने उतारे कपड़े, अब बताई ये बात : देखिए वीडियो

इस घटना के बाद छात्राओं के अभिभावकों में स्कूल प्रशासन और आरोपी शिक्षिका के प्रति काफी गुस्सा है। अभिभावकों का कहना है कि छात्रों की उम्र 10-12 साल के बीच है, जिनको तलाशी के नाम पर बेइज्जत किया गया है। टीचर को छात्राओं को शिक्षित करना चाहिए था कि सेनेटरी पैड्स का सही तरीके से निस्तारण कैसे करें लेकिन उन्हें ऐसा घिनौना काम किया है जिसे माफ नहीं किया जा सकता।

पत्नी करती रहीं मना, और पति ने साधु के सामने ही किया ये घिनौना काम

loading...