Breaking News
  • दिल्ली के उस्मानपुर में प्रॉपर्टी डीलर का मर्डर, बदमाशों ने चलाईं अंधाधुंध गोलियां
  • जापान चुनाव: शिंजो आबे की पार्टी ने आम चुनावों में जीत हासिल कर की वापसी
  • हिमाचल: 9 नवंबर को विधानसभा चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करने का आज अंतिम दिन
  • उत्तराखंड बना देश का चौथा खुले में शौच से मुक्त राज्य

ममता बनर्जी को हां कर फंस गए बंगाल टाइगर

कोलकाता: बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन यानी की कैब के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली एक बार फिर से विवादों में घरते नजर आ रहे है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गांगुली के इस फैसले से कैब के सदस्य नाराजा चल रहे हैं।

दरअसल बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पाकिस्तानी गजल गायक गुलामी अली और उनके बेटे का कंसर्ट कराना चाहती है, जिसका आयोजन 5 जनवरी को कोलकता में होना है। लेकिन इससे पहले सुरक्षा के लिहाज इस कार्यक्रम पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

दो बेटों के पापा मेसी ने कर ली शादी- पत्नी को गलत kiss करने पर मचा बवाल !

इस बात को ध्यान में रखते हुए सर्कस मैदान का चुनाव किया गया, लेकिन यहां भी इस बात की चिंता सताने लगी की अगर कार्यक्रम में ज्यादा भीड़ जमा हो गई तो सुरक्षा नियंत्रण में रखना एक बड़ा सवाल बन सकता है। जिसके बाद इस कार्यक्रम के लिए ईडन गार्डन का चुनाव किया गया।

क्या आप दाल-चावल खाने के इन फायदों को जानते हैं

ईडन गार्डन में कार्यक्रम के आयोजन के लिए राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने सौरव गांगुली की राय मांगी तो उन्होंने भी मंजूरी दे दी, अब इसी बात को लेकर बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य गांगुली से नाराज चल रहे हैं।

इस दाल को रोज खाने से हो सकात है परालायसिस- जाने इसके कारण और ऐसे करें बचाव

आपको बता दें कि दादा के इस फैसले पर हाल हाल ही में हुए वर्किंग कमेटी की बैठक में भी विरोध हुआ, कुछ सदस्यों ने तो यहां तक कह दिया कि जब तक जगमोहन डालमिया जिंदा थे, तब तक ईडन को कभी ऐसे प्रोग्राम्स के लिए मंजूर नहीं किया गया, लेकिन अब ऐसा क्यों हो रहा है, वो भी ऐसे समय में जब अगले साल यहां वर्ल्ड टी20 के मैच होने हैं।

भारत की शेरनी- मैदान पर आग तो मैदान से बाहर बरसाती हैं शोले- जानिए खास कारनामा

loading...